गोरखपुर, जेएनएन। केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि सभी जोड़े ऊपर नहीं बनते बल्कि कुछ जोड़े मोदी के डर से भी बन जाते हैं। इसका प्रत्यक्ष प्रमाण सपा व बसपा का बेमेल गठबंधन है। यह तेल व पानी जैसा मिलन है, जो कभी एक नहीं हो सकता है। यह मोदी का खौफ है कि गठबंधन हो गया। कभी एक दूसरे का चेहरा न देखने वालों को अब प्रधानमंत्री मोदी का डर सता रहा है। अपना स्वार्थ सिद्ध करने के लिए उन्होंने बेमेल गठबंधन बनाया है। अगर साइकिल पर हाथी बैठ गई, तो उसका टूटना तय है। चार चरण का मतदान हो चुका है। रुझान से पता चल रहा है कि एक बार फिर मोदी की सरकार बनने जा रही है।

सिद्धार्थनगर के शोहरतगढ़ तहसील के वीरेंद्र ग्रामीण स्टेडियम में गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रीयता के मुद्दे पर दोबारा मोदी सरकार बनाने का आह्वान किया। उन्‍होंने आतंकवाद के मुद्दे को भी उठाया। कहा कि मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कराना केंद्र सरकार की नैतिक विजय है। पिछले पांच साल से चीन कूटनीतिक चाल चलकर उसे बचाता रहा, लेकिन अंत में मोदी सरकार के दृढ़संकल्प के सामने चीन को झुकना पड़ा। पाकिस्तान का भी असली चेहरा सबके सामने आ गया।

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने जनता की नब्ज को टटोलते हुए भोजपुरी में कहा कि देश को मजबूत सरकार की जरूरत है, जो केवल मोदी के नेतृव में ही बन सकती है। प्रधानमंत्री चौकीदार की भूमिका अदा कर रहे हैं। राहुल बाबा चौकीदार की भूमिका पर प्रश्न उठा रहें हैं। अपशब्द भी बोल रहे हैं। इसको लेकर लाल पगड़ी पहने चौकीदार चुनाव में इसका जवाब देंगे। सभा को कैबिनेट मंत्री जय प्रताप सिंह, सांसद जगदम्बिका पाल, योगेंद्र प्रताप सिंह, गोविंद माधव आदि ने भी संबोधित किया। अध्यक्षता लालजी त्रिपाठी व संचालन कृष्‍ण पाल चौधरी ने किया।

कार्यक्रम में कपिलवस्तु के विधायक श्यामधनी राही, डुमरियागंज के विधायक राघवेंद्र प्रताप सिंह, जिलापंचायत की पूर्व अध्यक्ष साधना चौधरी, प्रतिनिधि अध्यक्ष नगर पंचायत सुभाष गुप्ता, पूर्व जिलाध्यक्ष रामकुमार कुंवर, जिलाध्यक्ष हियुवा रमेश गुप्ता, जिला महामंत्री अजय सिंह, पूर्व अध्यक्ष नगर पालिका सिद्धार्थनगर एसपी अग्रवाल, धनुर्धर प्रताप सिंह, केपी सिंह, अभय सिंह आदि मौजूद रहे।

मंच पर नहीं दिखे अपनादल विधायक व जिलाध्यक्ष

मंच पर शोहरतगढ़ के विधायक चौधरी अमर सिंह व जिलाध्यक्ष आत्माराम पटेल का नहीं दिखना चर्चा का विषय बना रहा। प्रदेश अध्यक्ष अपनादल युवा मंच हेमंत चौधरी ने भी दूरी बनाई रखी। पत्रकारों से हुई संक्षिप्त वार्ता अनुप्रिया पटेल इस मुद्दे पर कन्नी काट गईं। उन्होंने कहा कि यह कोई गम्भीर प्रकरण नहीं है, विधायक व पदाधिकारियों से इस संबंध में वार्ता की जाएगी।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस