बल्लभगढ़  [सुभाष डागर/एएनआइ]। हरियाणा में बहुमत से महज 6 सीट दूर भारतीय जनता पार्टी को निर्दलीय विधायकों का समर्थन मिलना जारी है। फरीदाबाद की पृथला विधानसभा से निर्दलीय प्रत्याशी नयनपाल रावत ने भी समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत में कहा- मैं भारतीय जनता पार्टी को अपना समर्थन जारी रखूंगा। मेरी मुलाकात भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी हो चुकी है।

पृथला के नवनिर्वाचित विधायक नयनपाल सुरक्षा घेरे में लिए गए

प्रदेश सरकार को विधानसभा में स्पष्ट बहुमत न मिलने के कारण पृथला के निर्दलीय प्रत्याशी नयनपाल रावत को बृहस्पतिवार को पुलिस ने सुरक्षा के नाम पर अपने घेरे में ले लिया। ये प्रदेश में भाजपा सरकार बनाने के लिए पार्टी की तरफ से बनाई जा रही रणनीति का एक हिस्सा बताया जा रहा है। समर्थक अपने विधायक के साथ जीत का जश्न मनाने के लिए उत्सुक थे, लेकिन पुलिस ने किसी को भी मिलने का मौका नहीं दिया।

प्रदेश में भाजपा सरकार को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। प्रदेश में भाजपा को सरकार बनाने के लिए अब निर्दलीय विधायकों की जरूरत पड़ेगी। पृथला के निर्दलीय विधायक भाजपा से टिकट के दावेदार थे, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया।

वे पार्टी से नाराज होकर निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में मैदान में उतर गए और उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी पूर्व विधायक रघुबीर सिंह तेवतिया को 16429 मतों से हराकर चुनाव जीत गए। भाजपा को सरकार बनाने के लिए निर्दलीय विधायकों की जरूरत है। इसलिए सरकार ने तुरंत के उनके निवास पर पुलिस सुरक्षा भेज कर अपने कब्जे में ले लिया। सुरक्षा बढ़ाए जाने के बाद विधायक को मोबाइल फोन भी बात करने से मना कर दिया गया। जिससे समर्थकों का उत्साह काफी ढीला हो गया। क्योंकि वे अपने मनपसंद विधायक के साथ जीत का जश्न मनाने से वंचित रह गए।

 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस