नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। गणतंत्र दिवस समारोह को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा कारणों से दिल्ली-एनसीआर में ड्रोन, हैंग ग्लाइडर, मानव रहित हवाई वाहन (यूएवी), मानव रहित विमान प्रणाली (यूएएस), माइक्रो-लाइट एयरक्राफ्ट, गर्म हवा के गुब्बारे, छोटे आकार के संचालित विमान आदि के उड़ान पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह प्रतिबंध 20 जनवरी से 15 फरवरी तक रहेगा। पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव के निर्देश पर यह प्रतिबंध लगाया गया है। आइबी के अर्लट में यह बताया गया है कि भारत में कुछ आपराधिक या असामाजिक तत्व व आतंकी संगठन अर्ध-ग्लाइडर, पैरा-मोटर्स जैसे उप-पारंपरिक हवाई प्लेटफार्मों का इस्तेमाल कर आम जनता, गणमान्य व्यक्तियों और महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं। गणतंत्र दिवस समारोह के उद्देनजर दिल्ली में धारा-144 भी लगा दी गई है। आदेश का उल्लंघन करने वालों पर आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

इस आदेश की प्रति दिल्ली पुलिस के समस्त अधिकारियों, दिल्ली नगर निगम, उत्तरी दिल्ली नगर निगम, पूर्वी दिल्ली नगर निगम, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम, लोक निर्माण विभाग, दिल्ली विकास प्राधिकरण और दिल्ली छावनी बोर्ड समेत सभी थाना पुलिस को भेज दी गई है।  

पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव का कहना है कि गणतंत्र दिवस पर आयोजन के दौरान असामाजिक तत्व अथवा आतंकी विशिष्ट व्यक्ति और महत्वपूर्ण संस्थानों को निशाना बना सकते हैं। असामाजिक तत्व ड्रोन ही नहीं पैरा-ग्लाइडर्स, स्माल सोझे एयरक्राफ्ट आदि का इस्तेमाल करते हुए आपराधिक और आतंकी हमले को अंजाम दे सकते हैं। 

 School Reopen Guidelines: दिल्ली में किस तारीख से खुलेंगे स्कूल, क्या होंगे नियम और गाइडलाइन; जानने के लिए पढ़िये- पूरी खबर

एसएन श्रीवास्तव का कहना है कि गणतंत्र दिवस हमेशा ही आतंकियों के निशाने पर रहता है। ऐसे पुलिस भी खास सुरक्षा बरतती है। ऐसे में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 20 जनवरी से आगामी 15 फरवरी तक 27 दिनों के लिए ऐसी गतिविधियों पर रोक लगाई जा रही है। इस सम्बंध में दिल्ली पुलिस के तमाम एसीपी और डीसीपी को आदेश की जानकारी दे दी गई है। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021