नई दिल्‍ली, ऑनलाइन डेस्‍क। किसान आंदोलन के कारण दिल्‍ली की सीमा पूरी तरह से हाई अलर्ट पर है। पिछले तीन दिनों से किसान दिल्ली की सीमा में प्रवेश करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं, जिसमें उन्‍हें सफलता नहीं मिल रही है। हालांकि पुलिस ने बिना ट्रैक्‍टर उन्‍हें दिल्‍ली में घुसने की इजाजत भी दे दी है मगर किसान अब भी सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर जमे हुए हैं। इससे बॉर्डर पर आवागमन पूरी तरह अस्‍त-व्‍यस्‍त है। इधर, हरियाणा या आसपास के राज्‍यों से दिल्‍ली आने वालों को इस कारण काफी परेशानी हो रही है। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि कैसे दिल्‍ली में वैकल्‍पिक व्‍यवस्‍था कर दिल्‍ली में आप आ सकते हैं।

दिल्‍ली आने के लिए यह हैं वैकल्‍पिक रास्‍ते

सिंघु बॉर्डर - दोनों ओर से बंद हैं। यहां आवागमन पूरी तरह से ठप है। इस रास्‍ते से बचने के लिए ट्रैफिक को मुकरबा चौक और जीटीके रोड (करनाल रोड) का सहारा आप ले सकते हैं। हालांकि इन रास्‍तों पर ट्रैफिक का दबाव बहुत ज्‍यादा है। इसके अलावा भी आउटर रिंग रोड से सिग्‍नेचर ब्रिज से रोहिणी और जीटीके रोड सहित एनएच-44 पर भी जाने से बचने लिए पुलिस वाले कह रहे हैं।

आउटर दिल्‍ली के बॉर्डर का हाल- फंसे हैं मालवाहन वाहन

किसानों को दिल्ली में घुसने से रोकने के लिए दिल्ली पुलिस की ओर से कड़ा पहरा रहा। बाहरी दिल्ली इलाके के सिंघु बॉर्डर पर पुलिस और किसानों के बीच गहमागहमी की स्थिति बनी रही। किसान सिंघु बॉर्डर से पीछे हटने को तैयार नहीं हैं और ना ही बुराड़ी के निरंकारी मैदान में जाने को। ऐसे में बॉर्डर पर हजारों मालवाहक वाहन फंसे हुए है। इसके अलावा हरियाणा सीमा से सटे राजधानी के ग्रामीण क्षेत्रों में भी पुलिस का पहरा रहा। यहां से निकलने वाले किसानों को पुलिस ने बुराड़ी के निंरकारी मैदान में लेकर गई। वहीं, अधिकतक किसान सिंघु बॉर्डर पर डटे हुए हैं। फिलहाल सिंघु बॉर्डर पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात हैं।

सोनीपत से दिल्‍ली आने का हाल

सोनीपत उपायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि राई और कुंडली जीटी रोड पर स्थित पेट्रोल पंपों और शराब की दुकानों को बंद करवाएं। फिलहाल जिला प्रशासन ने जीटी रोड पर जाम की स्थिति को देखते हुए यहां के रूटों को बदल दिया है। जिला पानीपत से सोनीपत की ओर जीटी रोड पर आने वाले यातायात को पानीपत से गोहाना की ओर डायवर्ट करने के लिए वहां के प्रशासन से बातचीत की गई है, ताकि यातायात को पानीपत से गोहाना-रोहतक-आसोदा या पानीपत से गोहाना-खरखौदा-पिपली या आसोदा होते हुए केएमपी पर भेजा जा सके। इसके अलावा गन्नौर तक पहुंचे दिल्ली जाने वाले वाहनों को गन्नौर शहर से गुमड़, कैलाना, डबल नहर पुल होते हुए बड़वासनी, रोहट, खरखौदा से बवाना होते हुए दिल्ली की ओर जा रहे हैं। इसके बीच से भी एक रास्ता कैलाना, डबल नहर पुल से मोई माजरी, कासंडा, खानपुर, गोहाना से खरखौदा या रोहतक होते हुए दिल्ली का भी बनाया गया है। सोनीपत शहर या इसके इसके आसपास से दिल्ली जाने वाले वाहनों को सेक्टर-14-15 डिवाइडर रोड या ट्रक यूनियन के टी-प्वाइंट से आइटीआइ चौक, राठधना, बरोटा, साफियाबाद और नरेला होते हुए दिल्ली की ओर भेजा जा रहा है।

यूपी से दिल्‍ली आने वाले बॉर्डर

नोएडा दिल्ली बार्डर

कालिंदी कुंज

डीएनडी

चिल्ला बार्डर (सेक्टर 14ए)

यूपी गेट (एनएच-9)

अशोक नगर

वसुंधरा बार्डर

दल्लूपुरा

कोंडली बार्डर

गाजियाबाद-दिल्ली बार्डर

आनंद विहार

यूपी गेट (एनएच-9)

सूर्य नगर

सीमापुरी

दिलशाद गार्डन

जीटी रोड

शालीमार गार्डन

अप्सरा बार्डर (गगन सिनेमा)

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप