नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर खरीद में हुए कथित घोटाले में दायर पूरक आरोपपत्र पर संज्ञान लेने के बाद विशेष अदालत ने सभी आरोपितों काे समन जारी कर पेश होने का आदेश दिया था। शुक्रवार को दुबई के कारोबारी राजीव सक्सेना सहित अन्य आरोपित वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश हुए। इस दौरान राउज एवेन्यू की विशेष अदालत ने राजीव सक्सेना को 11 दिसंबर तक एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी। हालांकि सक्सेना ने नियमित जमानत के लिए अर्जी दायर की थी, लेकिन सीबीआइ के विरोध के बाद नियमित जमानत नहीं दी गई।

हालांकि अन्य आरोपितों को दो-दो लाख रुपये के निजी मुचलके पर नियमित जमानत दे दी गई है। इस मामले में अगली सुनवाई 11 दिसंबर को होगी। सीबीआइ का आरोप है कि 2010 में हुए 3600 करोड़ रुपये के सौदे में घोटाला हुआ था। इस सौदे में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल ने रक्षा मंत्रालय सहित वायु सेना के तत्कालीन अधिकारियों को रिश्वत दी थी, ताकि हेलीकॉप्टर बेचने का सौदा अगस्ता वेस्टलैंड इंटरनेशनल को मिल जाए।

बुजुर्ग के रुपये व गहनों से भरा बैग चुराने के मामले में दो धरे

वहीं, मेट्रो पुलिस ने मेट्रो यात्रा के दौरान बुजुर्ग के रुपये व गहनों से भरा बैग चुराने के मामले में दो बदमाशों को धरा है। आरोपितों की पहचान अरुण कुमार कोहली और निखिल भाटिया के तौर पर हुई है। अरुण ने चोरी के जेवरात निखिल को बेच दिए थे। बाद में निखिल ने चोरी के जेवरात के बदले नए जेवरात ले लिए थे। वहीं नए जेवरात को बेचकर उससे प्राप्त रुपये आरोपितों ने बैंक में जमा करवा दिया था। पुलिस ने आरोपितों के पास से चोरी का मोबाइल फोन और जमा किए गए 2,50 लाख रुपये के कागजात इत्यादि बरामद किए हैं। मामले की छानबीन की जा रही है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021