नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले ही नेताओं में जुबानी जंग तेज हो गई है। आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के सह प्रभारी और दिल्ली से विधायक राघव चड्ढा ने नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब की राजनीति का राखी सावंत करार दिया है। राघव चड्ढा ने अपने बयान में कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू बेतुके बयान देने की बीमारी से पीड़ित हैं, इसलिए आदत से मजबूर होकर इस प्रकार की बयानबाजी कर रहे हैं। कुलमिलाकर राजनीति में 'गुरु' नाम से मशहूर नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ अभी आम आदमी पार्टी और हमलावर होगी, क्योंकि अरविंद केजरीवाल के खिलाफ उनका बयान भारी पड़ता नजर आ रहा है।

अरविंद केजरीवाल के खिलाफ फिजूब की बयानबाजी कर रहे नवजोत सिंह सिद्धू

राघव चड्ढा ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू की कही कोई भी बात गंभीर नहीं होती तथा हर जगह वह हंसी की पात्र ही बनते हैं। राघव चड्ढा ने यह भी कहा कि पहले नवजोत सिंह सिद्धू अपनी ही सरकार और सरकार के मुखिया कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ रोजाना बयानबाजी कर रहे थे, लेकिन आलाकमान की फटकार के बाद अब वह चुप हैं। अब उन्हें कुछ और नहीं सूझ रहा, इसलिए वह आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ फिजूल की बयानबाजी कर रहे हैं।

नवजोत सिंह सिद्धू बने हंसी के पात्र

राघव चड्ढा ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू कुछ दिनों बाद फिर से कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ बयानबाजी शुरू करेंगे। मुद्दा जरूरी हो या नहीं नवजोत सिंह सिद्धू को अपने बेतुके बयानों से सुर्खियों में रहने की आदत हो गई है। पिछले लंबे समय से नवजोत सिंह सिद्धू अपनी ऐसी बेतुकी बयानबाजी के कारण मीडिया में हंसी का पात्र बने हुए हैं।

राघव चड्ढा ने तंज कसते हुए कहा कि यहां तक कि कांग्रेस आलाकमान और कांग्रेस की लीडरशिप भी नवजोत सिंह सिद्धू को गंभीरता से नहीं लेती है, इसलिए सोनिया गांधी ने नवजोत सिंह नवजोत सिंह सिद्धू के दिल्ली दौरे के दौरान उनसे मिलने से भी इनकार कर दिया था। उन्होंने नवजोत सिंह सिद्धू को सलाह दी थी कि वह इस प्रकार की निचले स्तर की बयानबाजी बंद करें और पंजाब के गंभीर मुद्दों पर काम करें।

दिल्ली सरकार के बारे में गलत जानकारी दे रहे नवजोत सिंह सिद्धू

राघव चड्ढा ने पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू को दिल्ली सरकार के बारे में गलत सूचना फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू ने झूठा दावा किया था कि दिल्ली सरकार ने तीन कृषि कानूनों को अधिसूचित किया था। दरअसल आम आदमी पार्टी (आप) ने केंद्र के तीनों कृषि कानूनों के लागू होने के एक साल पूरा होने पर शुक्रवार को काला दिवस मनाया। इसके अलावा आने प कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि दी।

इसी दौरान पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने आम आदमी पार्टी को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि आप जहां एमएसपी का ऐलान होता है वहां भी किसानों का शोषण और फसलों के दाम घटते हैं। अरविंद केजरीवाल जी आपने प्राइवेट मंडी का केंद्रीय कानून नोटिफाई कर दिया। क्या इसे डी-नोटिफाई कर दिया गया है या बहाना अभी तक चल रहा है? 

यह भी पढ़ेंः चुनाव अगले साल, मगर अभी से पांच राज्यों में बढ़ रही केजरीवाल की मांग

Edited By: Jp Yadav