नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। Anna Hazare:  आम आदमी पार्टी की सरकार के खिलाफ दिल्ली आकर आंदोलन करने की दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता की अपील वाले पत्र का समाजसेवी अन्ना हजारे ने जवाब दे दिया है। उन्होंने जवाबी पत्र में कहा कि इस तरह की अपील से उन्हें अफसोस हुआ है। केंद्र में भाजपा की सरकार है और वह सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करती है, इसलिए उसे अपने बल पर कोई कदम उठाना चाहिए।

गौरतलब है कि आदेश गुप्ता ने पिछले दिनों अन्ना हजारे को पत्र लिखकर कहा था कि उनके आंदोलन से जन्म लेने वाली आम आदमी पार्टी (आप) सत्ता में आने के बाद अनैतिक कार्य कर रही है। AAP के खिलाफ भाजपा की लड़ाई को समर्थन करने के लिए अन्ना को दिल्ली आकर आंदोलन करना चाहिए। इसके जवाब में अन्ना ने भी जवाबी पत्र जारी किया है। उन्होंने दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष को लिखे पत्र में कहा कि भाजपा छह साल से अधिक समय से देश की सत्ता संभाल रही है। भाजपा में बड़ी संख्या में युवा हैं। इसके बावजूद एक फकीर को आंदोलन करने के लिए बुलाना दुर्भाग्यपूर्ण है। केंद्र सरकार के अधीन दिल्ली के कई मामले आते हैं। सीबीआइ व दिल्ली पुलिस केंद्र के नियंत्रण में है। प्रधानमंत्री भी भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कदम उठाने की बात करते हैं। इस स्थिति में यदि दिल्ली सरकार ने कोई भ्रष्टाचार किया है तो केंद्र सरकार को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने सभी पार्टियों की कार्य प्रणाली पर सवाल उठाया है।

वहीं, आदेश गुप्ता ने कहा कि भाजपा दिल्ली में AAP सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार आवाज उठाती रही है। आने वाले दिनों में सड़क पर उतरकर कार्यकर्ता आंदोलन करेंगे। भाजपा भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने वाले सभी लोगों से इस आंदोलन में शामिल होने का अनुरोध कर रही है। अन्ना हजारे को भी इसके लिए पत्र लिखा गया था। दूसरी ओर भाजपा के कई नेता अन्ना को इस तरह से पत्र लिखने के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं। उनका कहना है प्रदेश नेतृत्व के इस कदम से पार्टी की फजीहत हुई है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021