जागरण संवाददाता, नई दिल्ली :

प्रगति मैदान में आठ व नौ मई को दूसरे अंतरराष्ट्रीय पुलिस एक्सपो का आयोजन किया जा रहा है। इसमें राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय कंपनिया अपनी विश्वस्तरीय तकनीक व अत्याधुनिक हथियारों को प्रदर्शित करेंगी। एक्सपो में न केवल देश के हर राज्यों के वरिष्ठ अधिकारी शिरकत करेंगे, बल्कि आधुनिक सुरक्षा हथियारों की खरीद-फरोख्त के इरादे से मालदीप, श्रीलंका, फिलीपींस, बांग्लादेश सहित कई अन्य देशों के प्रतिनिधिमंडल भी शामिल होंगे।

एक्सपो में स्मार्ट पुलिसिंग पर चर्चा होगी तथा आपदा प्रबंधन व संचार पर विशेष प्रस्तुति दी जाएगी। वहीं, प्रौद्योगिकी, सुरक्षा, सर्विलांस व फॉरेंसिक क्षेत्र की भारत, अमेरिका, स्विटजरलैंड, जर्मनी आदि देशों की कंपनियां अपने-अपने हथियार व नई तकनीक को प्रदर्शित करेंगी। एक्सपो में विश्वस्तरीय आग्नेयास्त्र, फॉरेंसिक प्रौद्योगिकी, 3-डी क्राइम सीन, ड्रोन कैमरा, इंटरसेप्टर, नाइट विजन प्रौद्योगिकी, दंगारोधी उपकरण, आयुध प्रौद्योगिकी, निगरानी प्रणाली, एक्स रे मशीन, अग्नि सुरक्षा उपकरण तथा रेडियो व वायरलेस संचार प्रणाली को प्रदर्शित किया जाएगा। एक्सपो में 50 से अधिक कंपनियां भाग ले रही हैं। जिनमें डुपोंट, डेसटेंक, स्विस आइनोक्स, फारो, फाउंडेशन फ्यूचरिस्टिक, आस्का एक्यूपमेंट, मैट्रिक्स, विजय फायर शामिल हैं। दिल्ली पुलिस महिला सुरक्षा के लिए बनाए गए मोबाइल एप्लीकेशन हिम्मत से अन्य राज्यों व देशों के प्रतिनिधिमंडल को रूबरू कराएगी। तिहाड़ जेल के कैदियों द्वारा बनाए गए उत्पाद भी प्रदर्शित किए जाएंगे। आयोजक नेक्सजेन के निदेशक वीके बंसल का कहना है कि एक्स्पो की थीम स्मार्ट पुलिसिंग होगी। मौजूदा परिदृश्य में पुलिस बलों की कार्यप्रणाली को सुदृढ़ बनाने में स्मार्ट पुलिसिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है।