जागरण संवाददाता, नई दिल्ली :

विश्व ¨हदू परिषद (विहिप) के वरिष्ठ नेता आचार्य गिरिराज किशोर का रविवार को निधन हो गया। वे 95 वर्ष के थे। आजीवन ब्रह्मचर्य का पालन करने वाले आचार्य गिरिराज किशोर ने देहदान का संकल्प लिया था। इसके तहत सोमवार को उनका शरीर दधीचि देहदान समिति को सौंप दिया जाएगा।

विहिप के प्रवक्ता (दिल्ली) विनोद बंसल ने बताया कि रामकृष्णपुरम सेक्टर 6 स्थित विहिप मुख्यालय में संगठन के सरंक्षक अशोक सिंघल, अंतरराष्ट्रीय महामंत्री चंपत राय और वरिष्ठ पदाधिकारियों की उपस्थिति में उन्होंने अंतिम सांस ली। आचार्य गिरिराज किशोर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक रहे। इसके साथ उन्होंने विहिप का कई वर्षो तक मार्गदर्शन किया। रामजन्म भूमि आंदोलन भी उन्हीं के मार्गदर्शन में खड़ा किया गया था। बंसल ने बताया कि काफी समय से वह अस्वस्थ चल रहे थे। लेकिन अस्वस्थता के बावजूद वह विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करते रहे।