मुंबई [सौरभ वक्तानिया/समर्थ मोरे]।

मानता हूं कि मैं सट्टेबाज हूं। मैंने करोड़ों रुपये सट्टे पर लगाए और नुकसान भी उठाया। लेकिन मैंने कभी मैच फिक्स नहीं किया। शुक्रवार को देर रात तक चली मुंबई पुलिस की पूछताछ के दौरान आईपीएल टीम सीएसके के मुखिया गुरुनाथ मयप्पन ने ये बातें कहीं। इसके बाद मुंबई पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पढ़ें : आज है आईपीएल 6 का फाइनल मुकाबला, होगा घमासान

वैसे जिस समय गुरुनाथ को पुलिस मुख्यालय लाया गया था, तो उनके साथ वकीलों की फौज खड़ी थी। लेकिन पूछताछ के समय वह अकेले थे, जबकि सवालों की बौछार के लिए उनके सामने अपराध शाखा के मुखिया हिमांशु रॉय, अतिरिक्त आयुक्त (अपराध) निकत कौशिक, और डीसीपी सत्यनारायण चौधरी मौजूद थे। गोपनीयता की शर्त पर शनिवार को एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अपनी टीम पर लगाए गए सभी सट्टों में गुरुनाथ को सफलता मिली।

पढ़ें : पांच बार फाइनल में चेन्नई ही क्यों?

यहां तक कि पिछले कई सालों में उन्होंने जितने सट्टे लगाए, उनमें से 80 फीसद में उन्हें जीत मिली। अधिकारी के मुताबिक पुणे वारियर्स से सीएसके की हार वाले मैच पर हमारी निगाह है। एक मजबूत टीम की इतनी आसानी से हार संदेह पैदा कर रही है। गुरु के खिलाफ धोखाधड़ी के साथ अपराधिक साजिश और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसमें सूचना तकनीकी कानून की धारा 66ए भी शामिल है।

पढ़ें : धौनी की पत्‍‌नी साक्षी के बचाव में कूदीं नगमा

कोर्ट में बचाव पक्ष के वकील ने कहा कि सट्टेबाजी जमानती अपराध है इसलिए गुरुनाथ को हिरासत में नहीं दिया जाना चाहिए। उनकी पत्‍‌नी और बच्चे हैं। वह अपनी मर्जी से पूछताछ के लिए मुंबई आए थे। उन्हें गिरफ्तार करने का भी कोई कारण नहीं है। वह भाग नहीं रहे। अगर पुलिस को उनकी आवाज के नमूने चाहिए तो यह बाद में भी लिए जा सकते हैं। दोनों पक्षों के वकीलों की दलीलों के दौरान एक बार ऐसा लगा कि मुंबई पुलिस को झटका लगने वाला है लेकिन तभी कोर्ट को विंदू और गुरुनाथ के बीच बातचीत का टेप सुनाया गया।

इसके बाद कोर्ट ने गुरुनाथ को पुलिस हिरासत में भेज दिया। बाद में हिमांशु राय ने बताया कि हमने गुरुनाथ के पास से एक आइफोन और आइपॉड बरामद किए हैं। अभी चार सिम कार्ड बरामद करने हैं जो कि फर्जी दस्तावेजों के जरिये लिए गए हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप