नई दिल्ली, जेएनएन। IPL Final 2019 CSK vs MI: आइपीएल 2019 के फाइनल में मुंबई के हाथों चेन्नई सुपर किंग्स की एक रन से हार के बाद धौनी के साथ टीम के सभी खिलाड़ियों को दिल टूट गया था। मुंबई को 149 रन के छोटे स्कोर पर रोकने के बाद चेन्नई को उम्मीद थी कि मैच उनकी मुट्ठी में है। चेन्नई की तरफ से वॉटसन ने धुंआधार पारी खेलकर टीम को जीत दिलाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। लेकिन आखिर में मुंबई ने बाजी मार ली और मैच एक रन से जीत लिया।

मैच के बाद भारत के पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने धौनी के लिए सहानुभूति प्रकट की। मांजरेकर ने बताया कि मैच के बाद प्रेसेंटेशन सेरेमनी के दौरान धौनी काफी टूटे हुए दिखे। उन्होंने इससे पहले धौनी को इतना निराश और टूटा हुआ पहले कभी नहीं देखा।   

मांजरेकर ने ट्वीट करते हुए लिखा, "मैच के बाद जब धौनी से बात हो रही थी तो मुझे उन्हें देखकर बहुत बुरा लग रहा था। वह टूटे हुए लग रहे थे। धौनी को इतना निराश पहले कभी नहीं देखा।"  

आपको बता दें कि 150 रनों का पीछा कर रही चेन्नई सुपर किंग्स को आखिरी ओवर में जीत के लिए सिर्फ 9 रन चाहिए थे। लेकिन मुंबई के स्टार गेंदबाज मलिंगा ने इन रनों का बचाव किया। शेन वॉटसन शानदार पारी खेल टीम को आखिरी ओवर तक ले गए लेकिन इसके बावजूद टीम को जीत नहीं दिला सके। 

IPL 2019: खून से लथपथ था पैर लेकिन फिर भी CSK को जीत दिलाने में लगे रहे शेन वॉटसन

मांजरेकर ने इसके बाद फाइनल मैच को लेकर और ट्वीट किए। उन्होंने लिखा, " मुंबई की जीत बाद क्या सीखने को मिला। अगर आपकी टीम में स्टार गेंदबाज हैं तो जीत आपसे दूर नहीं होगी।" 

वहीं दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा, " इस बार का मैच में महान क्रिकेट देखने को नहीं मिला। लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि यह आइपीएल का महानतम फाइनल था।" 

मैच के बाद धौनी ने कहा, 'एक टीम के तौर पर हमारे लिए अच्छा सीजन रहा। लेकिन, हमें अपनी गलतियों को देखकर उसे ठीक करना होगा। यह बाकी पिछले सीजन की तरह हमारे लिए बेस्ट नहीं था। मिडिल ऑर्डर ने इस पूरे सीजन में संर्घष किया, लेकिन इसके बावजूद हम फाइनल तक पहुंचे।' धौनी से जब अगले साल की रणनीति के बारे में पूछा गया, तब उन्होंने उस बात को टाल दिया। धौनी ने कहा, 'अगले साल की रणनीतियों के बारे में कहना थोड़ी जल्दबाजी होगी। मेरी प्राथमिकता अभी विश्व कप है।'

हार के बाद धौनी ने टीम का बचाव करते हुए कहा, 'आज के मैच में हमें थोड़ा बेहतर करना चाहिए था। दोनों टीमों ने फाइनल में गलतियां कीं, लेकिन जीत उसकी हुई जिसने एक गलती कम की। यह 150 रन वाला विकेट नहीं था, लेकिन हमारे गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। जब हमें विकेट की जरूरत थी, तब उन्होंने विकेट लिया। गेंदबाजों के बारे में कुछ नहीं कहूंगा, लेकिन बल्लेबाजों को और अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए था। हालांकि, हर मैच में किसी न किसी बल्लेबाज ने योगदान दिया, लेकिन अगले साल के लिए हमें इस पर विचार करना होगा।'

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप