नई दिल्ली, जेएनएन। IPL Final 2019 MI vs CSK: मुंबई इंडियंस के खिलाफ आइपीएल 2019 के फाइनल मुकाबले में शेन वॉटसन ने 80 रनों की बेहतरीन पारी खेली। हालांकि, चेन्नई ने ये मैच एक रन से गंवा दिया लेकिन टीम ने आखिरी बॉल तक जीत के लिए जी जान लगा दी।   

मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई के सामने 150 रन का लक्ष्य रखा था। जिसका पीछा करते हुए चेन्नई 148 रन पर ऑलआउट हो गई। वॉटसन ने 59 गेंदों में 80 रनों की जबरदस्त पारी खेली। लेकिन आइपीएल के पिछले सीजन की तरह इस बार वॉटसन तूफानी शतकीय पारी खेलकर चेन्नई को जीत नहीं दिला सके। वॉटसन आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर रनआउट हो गए। 

अगर वॉटसन रनआउट नहीं होते तो शायद चेन्नई के लिए जीत बड़ी आसान हो जाती। वॉटसन 80 रन पर खेल रहे थे वह आसानी से 4 रन बना लेते। लेकिन चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने वॉटसन के बारे में नया खुलासा किया है। भज्जी ने बताया कि कैसे शेन वॉटसन बाएं पैर में खून बहने के बावजूद मुंबई इंडियंस के खिलाफ आइपीएल 2019 फाइनल में किसी को बताए बिना बल्‍लेबाजी करते रहे। 

हरभजन सिंह के मुताबिक, चेन्‍नई के ओपनर को मैच के बाद बाएं पैर में 6 टांके लगे। दरअसल, वॉटसन अपनी पारी के दौरान रन लेते समय डाइव लगा बैठे थे। उन्‍होंने अपना विकेट बचाने के लिए ऐसा किया था और वह चोटिल हो गए थे।

हरभजन ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी में वॉटसन की तस्वीर शेयर करते हुए कहा, "क्या आप उनके घुटने से खून बेहता देख सकते हैं...मैच के बाद उनके पैर में 6 टांके आए। डाइव लगाते वक्त वॉटसन चोटिल हो गए थे और उन्होंने किसी को बताए बिना बल्लेबाजी जारी रखी।"

शेन वॉटसन ने आइपीएल 2019 फाइनल में शानदार बल्‍लेबाजी की और चेन्‍नई को जीत के करीब पहुंचाया। दाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने 4 छक्कों और 8 चौकों की मदद से 59 गेंदों में 80 रन की कमाल की पारी खेली। लेकिन दुर्भाग्‍यवश वह आखिरी ओवर में रनआउट हो गए और चेन्‍नई रोमांचक फाइनल में एक रन से हार गई। मुंबई की जीत के हीरो तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा रहे, जो आखिरी ओवर में 9 रन बचाने में सफल रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप