विशेष संवाददाता, नॉटिंघम। ICC World Cup 2019: विश्व कप के दौरान बेल्स ने न गिरने की कसम खा रखी है। कई बार ऐसा हो चुका है,जब गेंद स्टंप्स को लगी,लेकिन बेल्स नहीं गिरी। इसको लेकर खिलाड़ियों ने आइसीसी से शिकायत भी की। शिकायतों के बावजूद आइसीसी ने जिंग्स बेल्स को नहीं बदलने का फैसला किया है। बता दें कि भारतीय कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने रविवार को एलईडी वाली बेल्स को लेकर शिकायत की थी।

क्या है आइसीसी का रुख
आइसीसी ने कहा कि टूर्नामेंट के बीच में कुछ भी नहीं बदलेंगे, क्योंकि ऐसा करना सही नहीं होगा। सभी 10 टीमों के लिए सभी मैचों में एक समान चीजें ही रखी जाएंगी। वर्तमान विश्व कप में लगभग पांच मौके ऐसे आए, जबकि गेंद स्टंप पर लगने के बावजूद बेल्स नहीं गिरी। आइसीसी ने कहा कि इनका उपयोग विश्व कप 2015 से सभी आइसीसी प्रतियोगिताओं और कई घरेलू टूर्नामेंट में हो रहा है। इसका मतलब है कि इनका उपयोग 1000 से अधिक मैचों में किया गया है। रविवार को ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर को तब जीवनदान मिला, जब जसप्रीत बुमराह की गेंद विकेट पर लगने के बावजूद बेल्स नहीं गिरी।

शिखर धवन के World Cup खेलने को लेकर BCCI ने दी ये बड़ी अपडेट, आप भी जानिए

नहीं रखा जाएगा रिजर्व डे
बारिस से लगातार बाधित हो रहे मैचों के बीच रिजर्व डे को लेकर आइसीसी अपने रुख पर कायम है। आइसीसी ने विश्व कप में हर मैच के लिए रिजर्व नहीं दिन रखने की बात का समर्थन किया है। आइसीसी के सीईओ डेव रिचर्डसन ने कहा कि इस बात की भी कोई गारंटी नहीं है कि रिजर्व दिन भी बारिश होगी या नहीं। उन्होंने कहा कि एक मैच को आयोजित करने केलिए 1200 से अधिक लोग लगे हैं और इसके साथ कई चीजें जुड़ी हुई हैं।

इसके अलावा आप वर्ल्ड कप से जुड़े लाइव अपडेट और रोचक खबरें dainikjagran.com पर पढ़ सकते हैं।  

शुरू हो गया है क्रिकेट क्विज कॉन्टेस्ट जागरण ऐप पर। रोज जीत सकते हैं स्मार्ट फोन। आज से ही हिस्सा लें। डाउनलोड करें जागरण ऐप।

Andrioid फोन पर डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।
Iphone पर डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप