लाहौर। पाकिस्तान के ऑलराउंडर मुहम्मद हफीज चेन्नई में गेंदबाजी एक्शन के लिए गैर आधिकारिक बायो-मैकेनिक टेस्ट पास नहीं कर पाए। इससे पाकिस्तानी क्रिकेट को गहरा झटका लगा है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) अब आधिकारिक टेस्ट के लिए उनका आवेदन नहीं कर सकेगा। गौरतलब है कि इससे पहले पाकिस्तान क्रिकेट टीम के दिग्गज स्पिनर सइद अजमल पहले ही अपना नाम विश्व कप से वापस ले चुके हैं। अजमल भी गलत एक्शन की समस्या से जूझ रहे हैं।

पीसीबी के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। हफीज ने चेन्नई के रामचंद्र विश्वविद्यालय में गेंदबाजी परीक्षण के दौरान 11 गेंदें फेंकी, जिनमें से छह में उनकी बाजू का घुमाव 15 डिग्री की निर्धारित सीमा से अधिक था। हफीज द्वारा फेंकी गई गेंदों में औसतन घुमाव 16 डिग्री से अधिक रहा। उनकी राउंड द विकेट गेंदबाजी में डाली गई दो गेंदों में क्रमश: 17 और 19 डिग्री का घुमाव रहा। चैंपियंस लीग टी20 के एक मैच के दौरान लाहौर लायंस टीम की ओर से खेलते हुए 34 वर्षीय ऑफ स्पिनर का गेंदबाजी एक्शन संदिग्ध पाया गया था, जिसके बाद गत नवंबर माह में न्यूजीलैंड के खिलाफ अबु धाबी में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान उन्हें दोबारा से रिपोर्ट किया गया।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

आइसीसी की रिपोर्ट में बताया गया था कि उनका गेंदबाजी एक्शन अवैध है और उनका घुमाव 15 डिग्री की निर्धारित सीमा से अधिक है। आइसीसी के नियमों के मुताबिक गेंदबाजों को अपनी बाजू 15 डिग्री तक मोड़ने की अनुमति है। अपने करियर में 153 वनडे मैचों में 122 विकेट लेने वाले और कुल 4456 रन बनाने वाले हफीज अब पाकिस्तानी टीम में एक ऑलराउंडर की हैसियत से नहीं बल्कि एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में ही विश्वकप में उतर सकते हैं। वहीं दूसरे प्रतिबंधित गेंदबाज सईद अजमल ने हाल ही में खुद को विश्वकप से अलग कर लिया था।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस