नई दिल्ली, जेएनएन। आने वाले समय में क्रिकेट में काफी कुछ बदलाव देखने को मिल सकता है, जिसमें कहा जा रहा है कि खिलाड़ी मजबूरन शॉर्ट्स पहनकर बल्लेबाजी करते नज़र आएंगे। इसके पीछे इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) या क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) का हाथ नहीं है। 

दरअसल, एक रिपोर्ट में सामने आया है कि आने वाले समय में जलवायु परिवर्तन यानी क्लाइमेट चेंज की वजह से खिलाड़ियों को शॉर्ट्स पहनकर मैदान में उतरना पड़ सकता है। हिट फॉर सिक्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ल्ड क्रिकेट कमेटी को इस बात के लिए सूचित कर दिया है कि तमाम बिदुंओं पर ध्यान दे। 

हिट फॉर सिक्स रिपोर्ट के अनुसार खिलाड़ियों के हेलमेट, ग्लव्स और पैड्स को कूल बनाने के साथ-साथ हाइड्रेशन टूटने का काम करने योग्य बनाया जाए। गर्म हवा, सूखा और तूफान पहले से ही खेल को प्रभावित करते आ रहे हैं। इसके बाद अब जलवायु परिवर्तन खेल में बाधा बन सकता है।  

ये भी पढ़ेंः इसलिए किया गया चहल और कुलदीप को T20 टीम से बाहर, सलेक्टर ने किया खुलासा

पिच और मैदान से निकलने वाली गर्मी और नमी की वजह से खिलाड़ी, अंपायर और तमाम सपोर्ट स्टाफ को दिक्कत होती है। दो बिलियन से ज्यादा लोगों के पसंदीदा खेल में हम देख रहे हैं कि भारत से लेकर कैरेबियाई धरती और इंग्लैंड में भी जलवायु परिवर्तन खिलाड़ियों को परेशान कर सकती है।  

पोर्ट्समाउथ यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर माइक टिपटॉन और इस रिपोर्ट के एक लेखक ने कहा है, "जब तापमान 35 डिग्री के ऊपर होता है तो शरीर को ठंडा रखने के लिए कुछ इंतजाम होने चाहिए। बल्लेबाज और विकेटकीपर के लिए ही नहीं, बल्कि हर किसी को क्लाइमेट चेंज से बचना होगा। इस दौरान गर्म हवा भी परेशान करती है।"  

प्रोफेसर टिपटॉन ने कहा है कि यूके की अपेक्षा भारत और ऑस्ट्रेलिया में ज्यादा गर्मी पड़ती है। वहीं, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका और वेस्टइंडीज में समंदर का लेवल बढ़ने से ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।इससे गर्मी और नमी में बदलाव आता है, जो एक दिन के लिए भी काफी खतरनाक होता है।   

Aus-vs-Ind

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021