रायपुर, जागरण डिजिटल डेस्क: छत्तसीगढ़ के रायगढ़ जिले के एक गांव में 50 वर्षीय पति ने अपनी 45 वर्षीय पत्नी की हत्या कर दी। हत्या का कारण बना भी तो क्या? टमाटर। दरअसल, भगत राम की पत्नी दिलो बाई अपने पति के मना करने के बाद भी पड़ोस में टमाटर मांगने चली गई थी। इस बात से गुस्साए भगत राम ने अपनी को पीट- पीटकर मौत के घाट उतार दिया।

टमाटर की चटनी खिलाना चाहती थी पत्नी 

घटना छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के थाना लैलूंगा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम भेडीमुडा के सुवासुपारा की है। जहां मृतक दिलो बाई के ससुर इन्दरसाय अगरिया ने पुलिस को बताया कि उनकी बहु रात के खाने में भगत राम को टमाटर की चटनी खिलाना चाहती थी। घर में टमाटर नहीं दिखा तो वह पड़ोस के घर में टमाटर मांगने के लिए जा ही रही थी कि उसके पति भगत राम ने उसे रोका और कहा: मत जाओ। दिलो बाई ने पति को समझाया, लेकिन भगत राम नहीं माना और गुस्से में आ गया। इस बात पक दोनो कि बड़ी बहस हो गई।

गुस्से से लाल होकर पत्नी के सिर पर मार दिया डंडा

गुस्से से लाल भगत राम ने अपनी पत्नी को पीटना शुरू कर दिया, जिसके बाद दिलोबाई ने पति भगत राम विश्वकर्मा को धक्का दे दिया। इस बात से भगत राम और भी ज्यादा नाराज हो गया और दोगुना जोर लगाकर दिलो बाई को पीटने लगा। मारपीट के दौरान दिलोबाई के सिर के पिछले हिस्से में डंडे से गंभीर चोट लग गई, चोट इतनी गहरी लगी कि दिलो बाई की मौके पर ही मौत हो गई।

पति ने किया अपराध स्वीकार

पुलिस अधिकारीयों ने बताया कि इस बात की जानकारी मिलने के तुरंत बाद मृतक महिला के ससुर की शिकायत पर आरोपित भगतराम को गिरफ्तार कर लिया है। जहां भगतराम ने भी अपना अपरााध स्वीकार कर लिया। पुलिस ने उस बांस के डंडे को भी जब्त कर लिया है, जिससे भगत राम ने दिलो बाई को मरा था। आरोपित को गुरुवार सुबह न्यायिक रिमांड पर जेएमएफसी घरघोड़ा के कोर्ट पेश किया गया है। जहां उसे न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

Bike Fire: सड़क पर चलती बाइक में अचानक लगी आग, चालक ने कूदकर बचाई जान

युवती के हत्‍यारे को पुलिस ने चलती ट्रेन से पकड़ा, आरोपित ने पहचान छिपाने के लिए हत्या के बाद शव को जलाया

Edited By: Nidhi Vinodiya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट