नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने विभिन्न सेवाओं के शुल्क में वृद्धि की है और इसके बारे में हाल ही में बैंक की ओर से जानकारी दी गई है। 15.01.2022 से बैंक नियमित बैंकिंग कार्यों से संबंधित कुछ सर्विस पर शुल्क बढ़ाने जा रहा है।

मिनिमम बैलेंस

मेट्रो रीजन में तिमाही औसत बैलेंस सीमा को 5,000 से बढ़ाकर 10,000 कर दिया गया है।

खाते में मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर लगने वाला चार्ज

तिमाही आधार पर ग्रामीण इलाकों में न्यूनतम बैलेंस न रखने पर शुल्क बढ़ाकर 400 और शहरी और मेट्रो क्षेत्रों 600 रुपया कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: आपके Aadhaar का कहां-कहां हुआ है इस्तेमाल, घर बैठे ऐसे लगाएं पता

बैंक लॉकर शुल्क

बैंक ने ग्रामीण, सेमी अर्बन, शहरी और मेट्रो क्षेत्रों में अपने लॉकर किराये के शुल्क में भी बढ़ोतरी की है। शहरी क्षेत्रों में लॉकर शुल्क में 500 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।

बैंक लॉकर फ्री विजिट

15 जनवरी, 2021 से हर साल मुफ्त यात्राओं की संख्या घटकर 12 हो जाएगी, उसके बाद 100 रुपये प्रति विज़िट का शुल्क लिया जाएगा। इससे पहले, प्रति वर्ष लॉकर विज़िट की संख्या प्रति वर्ष 15 निःशुल्क विज़िट निर्धारित की गई थी।

चालू खातों को बंद करना

चालू खाते जो 14 दिनों के बाद बंद हो जाते हैं, उन्हें 800 रुपये का जुर्माना देना होगा। पहले यह 600 रुपया था। हालांकि, 12 महीने के बाद बंद किए गए खातों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा।

बचत खातों में लेनदेन शुल्क

15 जनवरी से PNB के ग्राहक हर महीने 3 मुफ्त लेनदेन कर सकते हैं, उसके बाद 50 रुपये प्रति लेनदेन शुल्क लिया जाएगा (बीएनए, एटीएम और सीडीएम जैसे वैकल्पिक चैनलों को छोड़कर), जो वरिष्ठ नागरिक खातों के लिए लागू नहीं है।

कैश हैंडलिंग चार्जेज

बैंक ने बचत और चालू दोनों खातों पर अपनी नकद जमा सीमा भी कम कर दी है। प्रति दिन मुफ्त जमा सीमा को मौजूदा 2 लाख रुपये से घटाकर 1 लाख रुपया कर दिया गया है।

Edited By: Nitesh