Move to Jagran APP

कब और क्यों जारी किए जाते हैं Special Coin, रेगुलर सिक्कों से कितने होते हैं अलग

New Parliament Building वित्त मंत्रालय की ओर से जानकारी दी गई है कि नई संसद भवन के उद्घाटन पर 75 रुपये का सिक्का जारी किया जाएगा। इस रिपोर्ट में हम बताएंगे कि इसमें क्या खास होगा। (जागरण - फाइल फोटो)

By Abhinav ShalyaEdited By: Abhinav ShalyaPublished: Sat, 27 May 2023 11:15 AM (IST)Updated: Sat, 27 May 2023 11:36 AM (IST)
special Rs 75 coin on inauguration of the new Parliament building

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश के नए संसद भवन का उद्घाटन का रविवार (28 मई,2023) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से किया जाएगा। इस मौके को खास बनाने के लिए वित्त मंत्रालय ने 75 रुपये का खास सिक्का जारी करने का फैसला किया है।

इस सिक्के के मूल्य 75 रुपये होने की वजह भारत की आजादी के 75 साल पूरा होना है। यह सिक्का बेहद खास होने वाला है। आइए जानते हैं...

क्या होगा इस सिक्के में खास?

देश के नए संसद भवन के उद्घाटन में जारी किए जाने वाले इस सिक्के के पहले भाग के केंद्र में 'अशोक स्तंभ' होगा और इसके नीचे 'सत्यमेव जयते' लिखा होगा। साथ ही सिक्के के बाईं ओर हिंदी में 'भारत' और दाईं ओर अंग्रेजी में 'इंडिया' लिखा होगा। इस सिक्के के पहले भाग में नीचे के तरफ रुपये के चिन्ह के साथ 75 रुपये लिखा होगा।

वहीं, दूसरे भाग में संसद परिसर की तस्वीर होगी। इसके ऊपरी भाग में 'संसद संकुल' शब्द देवनागरी लिपि में लिखा होगा। वहीं, इसके निचले भाग में अंग्रेजी में 'पार्लियामेंट कॉम्पलेक्स' अंकित होगा।

इस सिक्के का वजन 35 ग्राम होने वाला है। ये 50 फीसदी चांदी, 40 फीसदी कॉपर और 5-5 फीसदी निकल व जिंक धातु से बना होगा।

स्पेशल सिक्के क्या हैं?

सरकार की ओर से महत्वपूर्ण अवसर या किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति को श्रद्धांजलि देने के लिए स्पेशल सिक्कों को जारी किया जाता है। इन्हें 'स्मारक' सिक्के भी कहते हैं। ऐतिहासिक रूप से, किसी भी राज्य द्वारा जारी किए गए सिक्के हमेशा वर्तमान राजनीतिक या आर्थिक स्थिति को दर्शाते हैं। कई पुराने और पूआधुनिक सिक्के समकालीन घटनाओं की याद दिलाते हैं। 

पूरे इतिहास में, सिक्कों को आमतौर पर विशेष अवसरों पर जारी किया जाता है।

कब-कब जारी किए जा चुके हैं स्पेशल सिक्के?

इससे पहले सरकार कई मौकों स्पेशल सिक्के जारी कर चुकी हैं। अक्टूबर 2020 में खाद्य और कृषि संगठन की 75 वीं वर्षगांठ पर 75 रुपये का सिक्का जारी किया गया था। 2022 में दिल्ली में आयोजित 90वीं इंटरपोल कांफ्रेंस में 100 रुपये का सिक्का पीएम मोदी की ओर से जारी किया गया था। वहीं, आईआईटी रुड़की के 175 साल पूरे होने के मौके पर 175 रुपये का सिक्का जारी किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वायपेजी के सम्मान में भी मोदी सरकार 2018 में 100 रुपये का सिक्का जारी कर चुकी है। 

75 रुपये के स्पेशल सिक्के के अतिरिक्त, सरकार आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और टीडीपी के संस्थापक नंदामुरी तारक राम राव (एनटीआर) की स्मृति में 100 रुपये स्मारक सिक्के को भी लांच करेगी।

रेगुलर सिक्कों से कितने होते हैं अलग?

सरकार की ओर से जारी किए जाने वाले स्पेशल सिक्के लीगल टेंडर नहीं होते हैं। इस कारण इनका प्रयोग लेनदेन के लिए नहीं किया जा सकता है। 

कहां से खरीद सकते हैं स्पेशल सिक्के?

बेशक इन स्पेशल कॉइन का इस्तेमाल आप लेनदेन के लिए नहीं कर सकते हैं, लेकिन आप इसे अपने कलेक्शन में जरूर रख सकते हैं। इन स्पेशल सिक्कों को भारत प्रतिभूति मुद्रण और मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड की वेबसाइट खरीदा जा सकता है।

 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.