नई दिल्ली, एएनआई। स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना वायरस से लड़ाई में मदद प्रदान करने के लिए 30 मार्च को 90 दिनों के लिए लाई गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज इंश्योरेंस स्कीम का विस्तार कर दिया गया है। इस योजना को 90 दिन और आगे बढ़ा दिया गया है। एक सरकारी रिलीज से यह जानकारी प्राप्त हुई है। यह योजना सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सहित उन सभी स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने वाले लोगों के लिए लाई गई थी, जो कोरोना के मरीजों से सीधे संपर्क में आते हैं और उनकी देखभाल करते हैं। ऐसे लोगों को संक्रमित होने का खतरा काफी ज्यादा रहता है।

एक सरकारी रिलीज में कहा गया, 'कोरोना वायरस से लड़ाई लड़ रहे स्वास्थ्य कर्मियों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज बीमा योजना 30 मार्च को 90 दिन की अवधि के लिए लॉन्च की गई थी। इस योजना को अगले 90 दिनों के लिए और बढ़ा दिया गया है।'

यह भी पढ़ें(Best Investment Plans: इन योजनाओं में हर महीने सिर्फ 1,000 रुपये निवेश करके कमाएं मोटा रिटर्न, जानिए पूरा ब्यौरा)

यह योजना स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने वाले लोगों को 50 लाख रुपये का बीमा कवर प्रदान करती है। रिलीज में कहा गया, 'इस योजना में कोई आयु सीमा नहीं है। साथ ही इस योजना में व्यक्तिगत रूप से नामांकन करवाने की भी जरूरत नहीं है। इस योजना के लिए प्रीमियम की पूरी राशि भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा वहन की जा रही है। इस पॉलिसी के तहत लाभ/क्लेम किसी भी अन्य पॉलिसीज के तहत मिलने वालाी राशि के अतिरिक्त होगा।'

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने योजना के लिए तैयार दिशानिर्देशों के आधार पर बीमा राशि प्रदान करने के लिए न्यू इंडिया एश्योरेंस (एनआईए) कंपनी लिमिटेड के साथ सहयोग किया है।

Posted By: Pawan Jayaswal

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस