नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर रघुराम राजन ने आज मुंबई में एक बैंकिंग सम्मेलन कहा कि पिछले कुछ दिनों से कई देशों की करेंसी का अवमूल्यन हो रहा है जिसमें से भारतीय रुपया भी शामिल है। लेकिन इससे हमें चिंतित होने की जरुरत नहीं है। चीनी करेंसी यूआन के अवमूल्यन का भारतीय रुपये पर पड़ रहे असर को लेकर राजन ने कहा कि हमें अधिक चिंतित होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने चीनी अर्थव्यवस्था की मजबूती पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर चीनी करेंसी का और अधिक अवमूल्यन नहीं होता है तो हमें इसके बारे में ज्यादा चिंता करने की जरुरत नहीं है।

उन्होंने कहा कि छोटे कारोबारियों को कर्ज मुहैया कराने के लिए जमानत की शर्तों को सुविधाजनक बनाना होगा। 11 पेमेंट बैंको को आरबीआई द्वारा मंजूरी देने को लेकर उन्होंने कहा कि ये सामान्य बैंकों के फीडर के तौर पर काम करेंगे। राजन ने कहा कि आरबीआई अगले महीने छोटे वित्त बैंकों को लाइसैंस देने की घोषणा करेगी।

बिजनेस सेक्शन की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shashi Bhushan Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस