Move to Jagran APP

Bihar Heatwave : सिवान में पारा 43 डिग्री पार, उमस भरी गर्मी से शिक्षिका समेत चार बच्चे हुए बीमार; स्कूल में मचा हड़कंप

Bihar News उमस भरी गर्मी से शिक्षिका समेत चार बच्चे बीमार पड़ गए हैं। सिवान में तापमान 43 डिग्री सेल्सियस पार कर गया है। बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। वहीं विद्यालय खुलने से बच्चों को विद्यालय जाना मजबूरी है। बच्चों के बीमार पड़ने के बाद स्कूलों में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में उनका इलाज कराया गया।

By Ramesh Kumar Edited By: Mukul Kumar Published: Mon, 10 Jun 2024 02:48 PM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 02:48 PM (IST)
प्रस्तुति के लिए इस्तेमाल की गई तस्वीर

जागरण संवाददाता, सिवान। पिछले कुछ दिनों से धूप व उमस भरी गर्मी से जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मनुष्य हो या पशु-पक्षी सभी परेशान हैं। तापमान 43 डिग्री सेल्सियस पार कर गया है। बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। वहीं विद्यालय खुलने से बच्चों को विद्यालय जाना मजबूरी है।

सोमवार को बड़हरिया प्रखंड के अलग-अलग विद्यालयों में शिक्षिका समेत तीन बच्चों की बीमार होने की सूचना मिली। जानकारी के अनुसार सदरपुर स्थित उच्च माध्यमिक विद्यालय में लू व गर्मी से एक शिक्षिका समेत दो बच्चों की तबीयत खराब हो गई। जबकि मध्य विद्यालय पहाड़पुर में एक छात्र बीमार हो गया।

इस दौरान, विद्यालय में अफरातफरी का माहौल क़ायम हो गया। बताया जाता है कि उच्च माध्यमिक विद्यालय सदरपुर में सोमवार को शिक्षिका अनामिका कुमारी विद्यालय पहुंचते ही अचानक बेहोश होकर गिर पड़ी। इसके कुछ ही देकर में कक्षा नौ की छात्रा चांदनी कुमारी बीमार हो गई।

छात्रा को इलाज के बाद घर ले गए स्वजन

प्रधानाध्यापक प्रदीप कुमार मंडल सहित अन्य शिक्षकों ने बीमार शिक्षिका एवं छात्रा का इलाज एक निजी क्लिनिक में कराया। इसके बाद प्रधानाध्यापक ने स्वजनों को सूचित किया। स्वजन अस्पताल पहुंच छात्रा को घर ले गए। वहीं दूसरी ओर मध्य विद्यालय पहाड़पुर कक्षा छह का छात्र देवकांत कुमार भी बेहोश होकर गिर पड़ा।

प्रधानाध्यापक राजाराम मांझी ने इसकी सूचना स्वजनों को दी तथा बीमार छात्र का इलाज करा स्वजनों को सौंप दिया। अभिभावकों को कहना था कि सरकार को स्कूल संचालन के समय में परिवर्तन लाना चाहिए। बच्चे बिना भोजन किए ही सुबह 6:30 बजे से दोपहर 12 बजे तक विद्यालय में रहते हैं।

इस दौरान वे भीषण गर्मी के कारण बीमार हो जा रहे हैं। इस मौके पर शिक्षक दीपक कुमार, अश्वनी कुमार, बैरिस्टर प्रसाद, शिक्षिका दीपा पटेल, कुमारी शिल्पी सहित अन्य शिक्षक उपस्थित थे। वहीं दारौंदा प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय फतेहपुर में चेतना सत्र के दौरान एक छात्र बेहोश होकर गिर पड़ा।

इसके बाद प्रधानाध्यापक रवींद्र कुमार ने उसका प्राथमिक उपचार किया तथा घटना की सूचना उसके स्वजनों को दी। स्वजन विद्यालय पहुंच छात्र को घर चले गए। प्रतिदिन विद्यालयों में बच्चों के बीमार और बेहोश होने की सूचना मिल रही है। मौसम विभाग द्वारा सिवान में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें-

नीतीश कुमार पर बिफरे Pappu Yadav; कहा- बस ये 3 काम ही कर लेते, मंत्रियों के शपथ ग्रहण पर दिया बड़ा बयान

'भारत माता की जय...', केंद्रीय मंत्री Chirag Paswan का शपथ के बाद रिएक्शन, LJP नेता ने PM मोदी के लिए कही ये बात


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.