नलिनी रंजन, पटना : बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने 67वीं पीटी परीक्षा की तिथि बढ़ा दी है। पहले यह एग्जाम 15 दिसंबर को निर्धारित था। अब यह परीक्षा 23 जनवरी में आयोजित की जाएगी। बिहार पंचायत चुनाव को देखते हुए परीक्षा तिथि आगे बढ़ाई गई है। बिहार पंचायत चुनाव 11 चरणों में आयोजित किया जा रहा है। अंतिम फेज का इलेक्शन 12 दिसंबर को निर्धारित है। इसकी पूरी प्रक्रिया लगभग एक सप्ताह बाद तक होनी है। ऐसे में परीक्षा को लेकर समस्या उत्पन्न हो रही थी। इसको देखते हुए आयोग ने तिथि बढ़ा दी है। आयोग के सचिव केशव रंजन ने बताया कि 67वीं बीपीएससी की परीक्षा 23 जनवरी को निर्धारित की गई है। एग्जाम से 723 पदाधिकारियों की नियुक्ति की जानी है। इसके लिए अब तक 19 विभागों से अधियाचना प्राप्त हो चुकी है। इसके पीटी परीक्षा तक आने वाली सभी वैकेंसी को इसमें शामिल कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: बिहार के बेतिया में प्रियंका चोपड़ा-सनी देओल का बेटा कर रहा इंटरमीडिएट की पढ़ाई, मामला जानकर चौंक जाएंगे आप

सबसे अधिक कल्याण पदाधिकारी के 133 पद

बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं संयुक्त परीक्षा में सबसे अधिक पिछड़ा वर्ग एवं अत्यंत पिछड़ा वर्ग विभाग के अधीन 139 पद, ग्रामीण विकास विभाग के अधीन 133 ग्रामीण विकास पदाधिकारी, नगर विकास सह आवास विभाग के अधीन ईओ के 110 पद, बीएएस के एसडीएम सह वरीय उपसमाहर्ता के 88 पद, डीएसपी के 20 पद, एससी-एसटी कल्याण पदाधिकारी के 52 पद, राजस्व अधिकारी के 36 पद शामिल है। 67वीं बीपीएससी के लिए पांच नवंबर तक अभ्यर्थी आनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

पद का नाम रिक्ति

  • राज्य कर सहायक आयुक्त : 21
  • सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा : 12
  • बिहार प्रशासनिक सेवा के एसडीएम व एडीएम : 88
  • पुलिस उपाधीक्षक : 20
  • अवर निर्वाचन पदाधिकारी 04
  • बिहार शिक्षा सेवा, शिक्षा विभाग : 12
  • जिला अंकेक्षक पदाधिकारी : 05
  • नियोजन पदाधिकारी सह जिला नियोजन पदाधिकारी : 02
  • श्रम अधीक्षक : 02
  • नगर कार्यपालक पदाधिकारी : 110
  • सहायक निदेशक बाल संरक्षण : 04
  • आपूर्ति निरीक्षक : 04
  • प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी : 18
  • प्रखंड अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति पदाधिकारी : 52
  • सहायक निदेशक, योजना एवं विकास विभाग : 52
  • ग्रामीण विकास पदाधिकारी : 133
  • राजस्व अधिकारी एवं समकक्ष : 36

Edited By: Akshay Pandey