पटना [वेब डेस्क]। इश्क का एेसा बुखार चढा कि एक पत्नी ने अपने दिव्यांग पति की बेदर्दी तरीके से साइकिल की ट्यूब से गला दबाकर मार डाला। उसका कसूर इतना था कि उसने अपनी पत्नी को उसके प्रेमी के साथ रंगरेलियां मनाते देख लिया था।

अपने कमरे में पति को सोता छोड़ पत्नी अपनी बच्ची को पढाने आने वाले टीचर के साथ दूसरे कमरे में आपत्तिजनक अवस्था में थी और पति को दोनों की हंसी ठिठोली सुनाई दी। वो बस कमरे में घुसा और इतना ही पूछा कि कबसे यह सब चल रहा।

उसकी बस इतनी सी बात पर पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने दिव्यांग पति की साइकिल की ट्यूब से गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या को अंजाम देने में महिला के प्रेमी के चार दोस्तों ने भी उसका साथ दिया।

पढ़ेंः कोटा में मेडिकल की तैयारी कर रहे एक और बिहारी छात्र ने की खुदकुशी

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने 12 घंटे में हत्या की गुत्थी सुलझा दी और महिला एवं उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि वारदात में शामिल चार अन्य लोग फरार हैं। उनकी पहचान कर ली गई है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

क्या है मामला-

मसौढ़ी कोर्ट हॉल्ट के पास साइकिल मरम्मत की दुकान करने वाला दिव्यांग अनिल कुमार पत्नी रानी देवी के साथ पास के मोहल्ले में रहता था। मंगलवार की रात खाना खाने के बाद वह बच्ची के साथ कमरे में सो रहा था। पत्नी दूसरे कमरे में थी। अचानक शोरगुल सुनकर अनिल की नींद खुल गई।

वह दूसरे कमरे में गया तो उसकी पत्नी प्रेमी सर्वोत्तम कुमार उर्फ विक्की के साथ रंगरेलियां मना रही थी। विक्की के अलावा कमरे में चार लोग और थे। इसके बाद उनके बीच हाथापाई शुरू हो गई। विक्की के दोस्तों ने अनिल को पकड़ लिया और रानी ने प्रेमी के साथ मिलकर साइकिल की ट्यूब से अनिल का गला घोंट दिया।

इसे भी पढ़ेंः नौकरानी का घर में मिला शव तो CDPO पत्नी सहित APO हुआ गिरफ्तार

अगली सुबह पड़ोसियों को बुलाकर अज्ञात अपराधियों द्वारा पति की हत्या किए जाने की बात कही। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो वह बार-बार अपना बयान बदलती रही। शक होने पर पुलिस ने सख्ती बरती, तब महिला ने पूरी कहानी सुनाई। उसके बयान पर विक्की को गिरफ्तार कर लिया गया। लेकिन विक्की के दोस्त फरार होने में कामयाब रहे। विक्की ने बताया कि वह रानी की बेटी को ट्यूशन पढ़ाता था। तब ही से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021