Move to Jagran APP

Nawada: बिहार पुलिस की बर्बरता, सेना के जवान को बीच सड़क पर डंडे से पीटा; वाहन जांच के दौरान हुई थी बहस

नवादा में बिहार पुलिस का सेना के जवान के साथ बर्बरता का मामला सामने आया है। पुलिस ने ट्रैफिक चेकिंग के दौरान सेना के जवान की लाठी-डंडे से पिटाई कर दी। मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। लोग बीच-बचाव में आए लेकिन पुलिसवाले बेहिसाब पीटते रहे।

By vinay kumar pandeyEdited By: Aditi ChoudharyPublished: Tue, 28 Mar 2023 02:24 PM (IST)Updated: Tue, 28 Mar 2023 02:24 PM (IST)
नवादा में बिहार पुलिस ने आर्मी के जवान के सड़क पर पीटा। जागरण

काशीचक (नवादा), संवाद सूत्र। नवादा में दिनदहाड़े बिहार पुलिस की बर्बरता की तस्वीर सामने आई है। जिले के काशीचक प्रखंड अंतर्गत शाहपुर ओपी क्षेत्र के शाहपुर चौक पर सोमवार को वाहन जांच के दौरान पुलिसकर्मियों ने एक आर्मी के जवान की बेहिसाब पिटाई कर दी। मौके पर काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। लोग बीच-बचाव में आए, लेकिन पुलिसवाले रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। पुलिसवालों ने जवान पर ताबड़तोड़ लाठियां बरसाई, जिसमें वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

कैंटीन से सामान लेकर घर जा रहा था जवान

मामले को लेकर बताया जाता है की आर्मी का जवान शेखपुरा जिला के मियनबिघा गांव का नंदन कुमार है। वह राजगीर स्थित कैंटीन से घर के लिए कुछ सामान लेकर आ रहा था। इसी दौरान शाहपुर चौक पर वाहन जांच कर रही स्थानीय पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका। बैग और मोटरसाइकिल की डिक्की खोलने को कहा। आर्मी जवान नंदन कुमार ने जांच के लिए बैग और डिक्की खोल दी, लेकिन पुलिस ने एक-एक सामान को निकाल कर दिखाने को कहा।

लोगों के दखल के बाद भी पीटते रहे पुलिसवाले

इस पर आर्मी जवान ने पुलिस को खुद सामान निकालकर जांच करने के लिए कहा। इतने में पुलिसकर्मी लाठी-डंडे से आर्मी के जवान पर प्रहार करने लगे, जिसमें नंदन गंभीर रूप से जख्मी हो गए। पुलिस की बर्बरता देख मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। सड़क पर वाहनों की लंबी कतार लग गई। इन सब से बेफिक्र पुलिसवाले लाठियां बरसाते रहे। स्थानीय लोग बीच-बचाव में आए, लेकिन फायदा नहीं हुआ।

पुलिस की बर्बरता और अवैध वसूली से स्थानीय भी परेशान

स्थानीय लोगों ने किसी तरह पुलिसवालों से छुड़ाकर आर्मी जवान को निजी क्लिनिक में भर्ती कराया है। तत्पश्चात स्वजनों ने मौके पर पहुंच घायल जवान को नजदीकी पीएचसी शेखोपुरसराय में भर्ती कराया। यहां मौजूद चिकित्सकों ने जख्मी जवान को बेहतर इलाज के लिए पावापुरी स्थित विम्स हास्पिटल रेफर कर दिया। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पुलिस की बर्बरता और अवैध वसूली से स्थानीय लोग भी परेशान हैं। आए दिन ऐसी घटना होती रहती है। इस बाबत ओपी अध्यक्ष वंदना कुमारी ने बताया कि मामला संज्ञान में है, जांच की जा रही है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.