दरभंगा, [संजय कुमार उपाध्याय]। हाल में दरभंगा एयरपोर्ट पर एक यात्री के बैग से कारतूस मिलने की घटना के बाद सतर्कता बढ़ाई जा रही है । इसको देखते हुए स्थानीय एयरपोर्ट को सुरक्षित रखने की कवायद शुरू की गई है। इस घटना के बाद से कई स्तर पर सुरक्षा की चिंता व्यक्त की जाने लगी थी। बाह्य परिधि में पूर्व में लगी चेन लिंक फेंसिंग ( लोहे की जालीदार चहारदीवारी) को मजबूती देने का काम चल रहा है। करीब 10 किमी की परिधि में डबल लेयर चेनलिंक फेंसिंग की तैयारी की जा रही है। एक्सपर्ट टीम काम कर रही है। डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने इसके लिए एक अप्रैल को स्थानीय अधिकारियों के साथ बैठक कर जरूरी निर्देश दिए थे। भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता के नेतृत्व में प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। ताकि, पहले से ज्यादा मजबूत फेंङ्क्षसग बने । विभाग को पूर्व में इस सिलसिले में भेजे गए प्रस्ताव में संशोधन की बात कही गई है। फिर से फेंङ्क्षसग के लिए तैयार प्रस्ताव की समीक्षा की जा रही है । 

यह भी पढ़ें : Darbhanga Crime: ससुर अपनी पताेहू काेे पाने के ल‍िए हुआ 'पागल', विरोध करने पर बेटे का न‍िकाल द‍िया कचूमर

 

अति सुरक्षा घेरे में होगा रनवे

8 नवंबर 2020 से दरभंगा एयरपोर्ट पर उड़ान जारी है। यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। विमानों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है। पुरानी फेंङ्क्षसग मजबूत की जा रही है। पुरानी फेंङ्क्षसग की ऊंचाई भी काफी कम है। कई जगहों पर कमजोर हो चुकी है। इस स्थिति में जानवर, पशु या पक्षी आदि से सुरक्षा के लिए फेङ्क्षसग को मजबूत किया जाना जरूरी है। इसके तैयार होने के बाद रनवे अति सुरक्षा घेरे में होगा। एयरपोर्ट के आसपास से जानवरों का हटाने में आसानी होगी। डीएम, दरभंगा डॉ. त्यागराजन एसएम ने कहा है कि इस आशय का प्रस्ताव विभाग को भेजा गया है। सरकार की ओर से जारी निर्देशों के आलोक में प्रक्रिया समय सीमा के अंदर पूरी कर ली जाएगी।

यह भी पढ़ें : Bihar B.Ed CET 2021: बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन कल से

 

 

 
 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021