PreviousNext

झारखंड में दिया जाता था आतंकियों को प्रशिक्षण

Publish Date:Wed, 30 Oct 2013 03:54 AM (IST) | Updated Date:Wed, 30 Oct 2013 05:04 AM (IST)
झारखंड में दिया जाता था आतंकियों को प्रशिक्षण
गांधी मैदान में धमाकों के बाद गिरफ्तार इम्तियाज के खुलासे पर मोतिहारी के एक गांव से धरे गए 25 वर्षीय ताबीज अंसारी ने बताया कि झारखंड के रामगढ़ जिले के चितरपुर में आतंकियों को प्रशि

पटना, [चन्द्रशेखर]। गांधी मैदान में धमाकों के बाद गिरफ्तार इम्तियाज के खुलासे पर मोतिहारी के एक गांव से धरे गए 25 वर्षीय ताबीज अंसारी ने बताया कि झारखंड के रामगढ़ जिले के चितरपुर में आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। उसने बताया कि पाकिस्तान के शिविर में प्रशिक्षित इंडियन मुजाहिदीन (आइएम) का सक्रिय सदस्य वकास, भटकल के साथ बिहार आया था। लेकिन भटकल की गिरफ्तारी के पूर्व उसने अपना ठिकाना तहसीन के रिश्तेदार रांची निवासी इम्तियाज के पास बना लिया था। इम्तियाज के जरिये ही उसने झारखंड में अपनी जड़ें मजबूत करनी शुरू कर दी थी। कुछ ही दिनों में उसने झारखंड के रामगढ़ जिले के पास चितरपुर गांव में आइएम का प्रशिक्षण केंद्र खोल लिया।

पढ़ें: दस-दस हजार रुपये देकर रखवाए गए बम

उसने बताया कि भटकल की गिरफ्तारी के बाद आइएम की मुख्य कमान वकास के ही पास है। तहसीन उसके इशारे पर ही रणनीति को अंजाम देता है। ताबीज अंसारी ने बताया कि चितरपुर में एक बार में करीब सात युवकों को ही आतंक का प्रशिक्षण दिया जाता है। उन्हें शारीरिक तौर पर मजबूत बनाने के साथ ही एके 47 व अन्य आधुनिक हथियार चलाना सिखाया जाता है। रांची के ही एक अन्य स्थान पर उन्हें बम बनाने का प्रशिक्षण भी दिया जाता है। एक टीम की प्रशिक्षण अवधि एक माह होती है। उन्हें कोड में बात करना व कोड वर्ड समझना भी सिखाया जाता था।

अरशद ने स्वीकारे आइएम से संबंध

मोतिहारी। पटना धमाके मामले में पूर्वी चंपारण जिले के कल्याणपुर थाना क्षेत्र के अलौला गांव से सोमवार रात गिरफ्तार अरशद ने पूछताछ में आइबी के समक्ष आइएम से जुड़ने की बात स्वीकार की है। सूत्रों के अनुसार वह रांची के धुर्वा में गिरफ्तार आरोपियों से बातें भी करता था। उसे रांची से आए आरोपियों के मोबाइल डिटेल के आधार पर पकड़ा गया है। अरशद रांची के नगरी थाना क्षेत्र के नया सराय में रहकर पढ़ाई के अलावा एनजीओ में भी काम करता था। टीईटी परीक्षा पास करने के बाद वह चकिया में शिक्षक बनने की तैयारी कर रहा था। उसके पास से दो मोबाइल, आधार कार्ड, एटीएम व प्रमाण पत्र मिले हैं। इस बीच पता चला कि अपराह्न तीन बजे लहेरियासराय थाना क्षेत्र के बाकरगंज में एक मस्जिद की गली से एनआइए की टीम ने एक शख्स को हिरासत में लिया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:IM terrorists training camp in Jharkhand(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

मामला दर्ज कराया तो फिर किया गैंगरेपधमाकों के बीच हुंकार से हिली तीसरी ताकत
अपनी प्रतिक्रिया दें
  • लॉग इन करें
अपनी भाषा चुनें




Characters remaining

Captcha:

+ =


आपकी प्रतिक्रिया
    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें