PreviousNext

अब महिलाएं ही नहीं पुरुष भी चल रहे मेकओवर की राह पर

Publish Date:Wed, 15 Mar 2017 03:11 PM (IST) | Updated Date:Thu, 16 Mar 2017 12:00 PM (IST)
अब महिलाएं ही नहीं पुरुष भी चल रहे मेकओवर की राह परअब महिलाएं ही नहीं पुरुष भी चल रहे मेकओवर की राह पर
अब मेकओवर के लिए नियमित रूप से पुरुष भी पार्लर जाने लगे हैं। वे हेयर टैटूज, बीयर्ड डिजार्इंनग, बेसिक टैटूज, आइब्रोज, पीयर्सिंग करवाते हैं।

बदलते वक्त के प्रभाव में सौंदर्य के क्षेत्र से महिलाओं का एकाधिकार अब खत्म हो गया है। पुरुषों में भी बेहतर दिखने की चाह में पार्लर जाने व मेकओवर करवाने की प्रवृत्ति तेजी से बढ़ रही है। खासतौर पर मल्टीनेशनल कंपनियों के कॉरपोरेट कल्चर ने युवाओं में इस शगल को जन्म दिया है। 

लाइफ स्टाइल ने छीना चेहरे का नूर : भले ही टीवी फिल्मों आदि के प्रभाव में युवा अपने आप को स्मार्ट व फिट दिखाना चाहते हों लेकिन एक सच यह भी है कि बदलती लाइफ स्टाइल, पॉल्यूशन लेवल, जंक फूड, क्र्लंबग व पार्टी ने कम उम्र में ही चेहरे पर दुष्प्रभाव छोड़ने शुरू कर दिए हैं। मेकओवर एक्सपर्ट मानसी के मुताबिक यह कड़वा सच है कि भले ही लोगों को वर्तमान लाइफ स्टाइल भाती हो लेकिन यह स्वास्थ्य व खूबसूरती के लिए कतई ठीक नहीं है। इसी बदलाव के परिणामस्वरूप पुरुषों को खूबसूरत बने रहने के लिए मेकओवर का सहारा लेना पड़ता है।

शौक नहीं, जरूरत : शहर के सभी बड़े सलोन व पार्लर ‘यूनीसेक्स’ हो गए हैं। इन पार्लरों में महिलाओं की ही तरह पुरुषों को भी विभिन्न ट्रीटमेंट दिए जाते हैं। पुरुष केवल शौक के लिए ही पार्लर नहीं जाते बल्कि आज के दौर में इनकी जरूरत बन गई है नियमित रूप से अपना सौंदर्यवर्धन करना। इस बारे में बताते हुए झाड़सा रोड स्थित ग्रेस एंड ग्लैमर सलोन की संचालिका प्रिया कालरा कहती हैं कि विभिन्न कंपनियों में अब कर्मचारियों की प्रजेंटेशन एवं उनके लुक्स पर ध्यान दिया जाता है। ऐसे में शहर में मल्टीनेशनल कंपनियों में काम करने वाले पुरुष कर्मचारियों को भी सुंदर व हर वक्त फ्रेश नजर आना होता है, जिसके लिए विभिन्न ट्रीटमेंट उनकी जरूरत बनते जा रहे हैं। शहर के ज्यादातर पार्लरों में इन दिनों महिला एवं पुरुषों की संख्या लगभग बराबर होती है और पुरुष भी वे तकरीबन सभी ट्रीटमेंट ले रहे हैं जोकि महिलाएं लेती हैं।

लड़कियों के हर क्षेत्र में आगे आने के चलते अब प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है। लड़कों का मानना है कि कंपनियां चाहती हैं कि कर्मचारी खूबसूरत व प्रजेंटेबल लगें। ऐसे में कई बार लड़कियों को प्राथमिकता मिल जाती है। इन बातों को ध्यान में रखते हुए अब पुरुषों को भी ग्र्रूंमग की आवश्कता महसूस होने लगी है। शादियों में लड़कियों की तरह लड़के प्री ग्रूम ट्रीटमेंट्स लेते हैं।

मनाली, संचालक, बेगम वजीर, दिल्ली

अब सलोन जाना केवल महिलाओं का ही शौक नहीं रह गया है बल्कि बदलते वक्त में नियमित मेकओवर व ब्यूटी ट्रीटमेंट्स लेना पुरुषों की भी जरूरत बन गई है। वे अपने लुक को बेहतर बनाए रखने के लिए मेकओवर करवाते हैं। त्वचा की देखभाल करते हैं ताकि उम्र का असर न नजर आए व वे हमेशा प्रजेंटेबल दिखें।’

मानसी मिढा, मेकओवर एक्सपर्ट मानसी मिढा मेकओवर्स, दिल्ली

प्रस्तुति- प्रियंका दुबे मेहता
 

यह भी पढ़ें : अपने ड्रेस से कैसे मैच करें मेकअप अपनायें ये टिप्स

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Not only women but men also going for Makeover(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

नाखूनों को सुंदर बनाने के लिए किया जा रहा भांग का इस्तेमालचेहरे पर है ओपन पोर्स तो ऐसे पाये इनसे छुटकारा
यह भी देखें