लंदन, प्रेट्र। कैंब्रिज के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा रोबोट विकसित किया है जो मशीन लर्निग विधि के जरिये फसलों की पहचान कर उनकी कटाई करने के साथ-साथ भंडारण करने में भी मदद करेगा।

मशीन लर्निग विधि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) की एक एप्लीकेशन है जो किसी भी सिस्टम को स्वयं चलाने में मदद करती है। ब्रिटेन की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों द्वारा विकसित किया गया ‘वेजबोट’ लेट्यूस (सलाद पत्ते) को पहचानने और उसकी कटाई करने में समक्ष है। वैज्ञानिकों ने बताया कि यह रोबोट सब्जियों की कटाई करने में समक्ष है इसीलिए इसका नाम ‘वेजबोट’ रखा गया है।

द जर्नल ऑफ फील्ड रोबोटिक्स में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, स्थानीय फल और सब्जी सहकारी समिति के सहयोग से क्षेत्र की विभिन्न स्थितियों में इसका सफलतापूर्वक परीक्षण भी किया गया है। वैज्ञानिकों ने बताया कि यद्यपि प्रोटोटाइप मशीनों को बिना किसी सहायता से नहीं चलाया जा सकता, लेकिन यह कृषि कार्यो में रोबोटिक्स के उपयोगिता को जरूर बढ़ाते हैं। उन्होंने कहा कि आलू और गेहूं जैसी फसलों की कटाई के लिए दशकों से बड़े पैमाने पर यंत्रों का प्रयोग किया जा रहा है। लेकिन यहां लेट्यूस (सलाद पत्ते) जैसी फसलों के कटाई सबसे चुनौतीपूर्ण है। जिनकी कटाई अब वेजबोट के जरिये आसानी से हो सकेगी।

कैंब्रिज में इंजीनियरिंग विभाग के साइमन बिरेल ने कहा कि ब्रिटेन में उगाया जाने वाला लेट्यूस सामान्य प्रकार का ही है। लेकिन असावधानी बरतने पर यह क्षतिग्रस्त भी जल्द हो जाता है। इसका सबसे बड़ा नुकसान किसानों को आर्थिक रूप से भी ङोलना पड़ता था। लेकिन बेजबोट ने किसानों की इस समस्या का समाधान खोज निकाला है। उन्होंने कहा कि यदि हम लेट्यूस की कटाई में रोबोट का प्रयोग कर सकते हैं तो अन्य फसलों की कटाई में इसका उपयोग किया जा सकता है।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manish Pandey