लंदन, रायटर। ब्रिटेन को अगर ब्रेक्जिट के उलझाव से मुक्ति दिलानी है तो मतदाता कंजरवेटिव पार्टी को पूर्ण बहुमत से जिताएं। यह बात प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने चुनाव प्रचार में कही है।

यूनाइटेड किंगडम का पूरी दुनिया में सम्मान है

जॉनसन ने कहा कि ब्रेक्जिट को लेकर बने गतिरोध से केवल वही मुक्ति दिला सकते हैं। कहा, यूनाइटेड किंगडम का पूरी दुनिया में सम्मान है और लोग यहां से प्रेरित होते हैं लेकिन हाल के वर्षो में वे ब्रिटेन और सहयोगियों के ब्रेक्जिट में फंसे होने की चर्चा कर रहे हैं। ब्रिटेन के भविष्य पर सवाल उठा रहे हैं, आशंकाएं जता रहे हैं। ऐसा इसलिए हो रहा है कि यूरोपीय यूनियन से अलगाव को लेकर राजनीतिक नेतृत्व एकजुटता और मजबूती नहीं दिखा पाया। प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर उन्हें बहुमत मिला तो वह ब्रिटेन के लिए बेहतर भविष्य वाले ब्रेक्जिट को जमीन पर उतार पाएंगे।

ब्रेक्जिट का फैसला जनमत संग्रह में 2016 में हुआ था

उल्लेखनीय है कि 2016 में ब्रेक्जिट का फैसला जनमत संग्रह में हुआ था। उसके बाद डेविड कैमरन और टेरीजा मे की सरकार इसके लिए कुछ खास नहीं कर पाईं। ब्रेक्जिट को 31 अक्टूबर तक पूरा कराने का नारा देकर बोरिस जॉनसन ने जुलाई में कुर्सी संभाली। विपक्ष और सहयोगियों के तमाम विरोध के बावजूद वह यूरोपीय यूनियन के साथ अलगाव के लिए समझौता करने और उसे ब्रिटिश संसद में स्वीकृत कराने में सफल रहे।

ब्रेक्जिट 31 जनवरी, 2020 तक टल गया

संसद में पारित एक संशोधन प्रस्ताव के चलते ब्रेक्जिट टल गया है और उसकी अगली तारीख 31 जनवरी, 2020 हो गई है। उम्मीद की जा रही है कि ब्रिटेन में अगर जॉनसन की सरकार फिर से बनी तो अगली तय तिथि पर ब्रेक्जिट प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप