लंदन, प्रेट्र। लंदन ब्रिज पर आतंकी हमले की साजिश में शामिल होने के शक में सोमवार को पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। आतंकी हमला शुक्रवार को हुआ था और इसमें दो लोगों की छुरे से हत्या करने वाले उस्मान खान को पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में मार गिराया था। उस्मान पाकिस्तान के कब्जे वाले गुलाम कश्मीर का रहने वाला था।

गिरफ्तार किए गए नजम हुसैन का परिवार भी गुलाम कश्मीर के उसी गांव से आया है, जहां का उस्मान था। ये दोनों लंदन स्टॉक एक्सचेंज की इमारत में बम फिट करने की साजिश में शामिल थे, जिसमें दोनों को दोषी ठहराया गया था। दोनों ने 2012 में गुलाम कश्मीर के एक मदरसे में आतंकी शिविर भी चलाया था और युवकों को उसमें आतंकी गतिविधियों का प्रशिक्षण दिया गया था।

अपनी गतिविधियों के सिलसिले में उस्मान और नजम पहले भी गिरफ्तार हो चुके हैं। स्टैफोर्डशायर पुलिस लंदन ब्रिज हमले की जांच के सिलसिले में लगातार छापेमारी कर रही है। उस्मान को समय से पहले जेल से रिहा करने के मुद्दे पर ब्रिटेन में आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। विपक्षी लेबर पार्टी ने जहां रिहाई के लिए सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी को जिम्मेदार ठहराया है, वहीं प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इसके लिए लेबर पार्टी के सत्ताकाल में बदली गई नीतियों को कारण बताया है।

Posted By: Sanjeev Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप