मास्‍को, एजेंसी। इराक के सुरक्षा बलों ने इस्‍लामिक स्‍टेट (आइएस) के आतंकवादी व उसके शीर्ष नेता नासिर कर्दाश से पूछताछ शुरू कर दी है। इराकी सुरक्षा बलों को उम्‍मीद है कि कर्दाश से आइएस संगठन के बारे में कुछ अहम सुराग मिल सकता है। बता दें कि इराकी सुरक्षा बलों ने बुधवार को आतंकवादी कर्दाश को अपने कब्‍जे में लिया था। आइएस सरगना अबू अल बगदादी की हत्‍या के बाद वह संगठन के शीर्ष नेता के रूप में कार्यभार देख रहा है।

संगठन का डेटाबैंक मिलने की उम्‍मीद  

इराकी सुरक्षा बलों को उम्‍मीद है कि उसके पास आइएस संगठन के बारे में अहम जानकारियां हैं। उसके पास संगठन का डेटाबैंक हो सकता है। इसलिए उसका पकड़ा जाना आइएस के लिए बड़ा झटका है। इराकी सुरक्षा बल के प्रवक्‍ता रसूल ने कहा था कि कर्दाश काफी दिनों से इराक में सक्रिय था। वह इराकी बलों के लिए एक चुनौती बना हुआ था। वह आइएस के स्‍लीपर सेल में शामिल होकर देशभर में आतंकी साजिश रच रहा था। इराकी सेना सीरिया, ईरान और रूस के साथ आइएस अभियानों की जानकारी साझा करती रही है।

क्‍या है इस्लामिक स्टेट 

निश्चित रूप से अलकायदा आतंकवाद के क्षेत्र में दुनिया का बड़ा नाम है, लेकिन इस्लामिक स्टेट शैतान बन गया है। इस संगठन को आइएसआइएस के नाम से भी जाना जाता है। इस आतंकी संगठन ने उत्तरी इराक और पश्चिमी सीरिया पर कब्‍जा करके अपनी सरकार का गठन किया है। अबु बक्र अल बगदादी इस्‍लामिक संगठन का शीर्ष नेता है। यह संगठन इतना हिंसक और बर्बर है कि अलकायदा ने भी इसकी निंदा की है। इस आतंकी संगठन में दुनियाभर के लड़ाके शामिल हैं, जिनमें ब्रिटिश मुस्लिमों की तादाद सबसे ज्यादा है।

खुंखार आतंकवादी बगदादी मारा गया 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने 28 अक्‍टूबर, 2019 को यह ऐलान किया था इस्लामिक स्टेट का सरगना अबू बकर अल-बगदादी को अमेरिका के स्पेशल फोर्स ने एक ऑपरेशन के दौरान मौत के घाट उतार दिया है। ट्रंप ने कहा था कि बगदादी ने दुनिया को काफी नुकसान पहुंचाया। उन्‍होंने कहा था कि उसने आतंकवाद की एक ग्लोबल चेन बनाई, इंटरनेट को अपने टेरर के विस्तार का जरिया,  दुनिया के कई देशों में आतंकवाद एक्सपोर्ट किया, हज़ारों युवाओं का ब्रेनवॉश करके उन्हें आतंकवादी बनाया। 

  

Posted By: Ramesh Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस