मकरान (एएनआई)। पाकिस्‍तान में लोगों के हालात लगातार खराब हो रहे हैं। पहले से ही गैस और खाने-पीने की जरूरी चीजों की बढ़ती कीमतों से परेशान लोगों को अब बिजली की जबरदस्‍त कटौती का भी सामना करना पड़ रहा है। आलम ये है कि बलूचिस्‍तान प्रांत के कई जिलों में 16-18 घटों तक की बिजली कटौती हो रही है। इससे परेशान लोगों का अब गुस्‍सा केंद्र की इमरान सरकार के खिलाफ फूटने लगा है। यहां के केच, ग्‍वादर और पंजगुर जिला इससे सबसे अधिक प्रभावित हो रहा है। इस कटौती से परेशान लोगों ने सरकार के खिलाफ जबरदस्‍त विरोध प्रदर्शन किया है। सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारियों के पास सरकार के खिलाफ प्‍लेकार्ड, बैनर, तख्तियां थे। इन लोगों ने सरकार के खिलाफ जबरदस्‍त नारेबाजी की है।

आपको बता दें कि बलूचिस्‍तान के इन तीन जिलों में 18 घंटों का पावरकट ऐसे समय में हो रहा है जब यहां का तापमान 51-52 सेंटीग्रेड तक जा पहुंचा है। ऐसे में बिना बिजली के लोगों का जीवन मुश्किल में गुजर रहा है। मरकान कमिश्‍नर के ऑफिस के सामने हुए इस प्रदर्शन में इन लोगों ने बिजली समस्‍या का तुरंत समाधान करने की मांग की है। डॉन अखबार के हवाले से एएनआई ने बताया है कि सूबे के मुख्‍यमंत्री जाम कमाल खान अल्‍यानी ने हालिया डेवलेपमेंट की जानकारी देते हुए बताया है कि सीएम ने पीएम इमरान खाने से अपील की है कि वो जल्‍द से जल्‍द इस समस्‍या का समाधान करवाएं।

सीएम ने इमरान से ये भी कहा है कि वो इस मामले को ईरान सरकार के समक्ष उठाएं। मकरान में करीब एक माह से बिजली का बुरा हाल है। यहां पर डिवीजन को नेशनल ग्रिड से जोड़ने का काम चल रहा है। इस संबंध में सीएम ने इमरान खान को एक पत्र भी लिखा है। आपको बता दें कि जियो टीवी ने इससे पहले पाकिस्‍तान में बिजली संकट के बढ़ने की खबर दी थी। इसके मुताबिक यहां पर बिजली की करीब 7-8 हजार मेगावाट की कमी हो रही है। कई जगहों पर की जा रही बिजली कटौती को बिना जानकारी के ही धड़ल्‍ले से किया जा रहा है।

इस्‍लामाबाद, कराची, पेशावर में भी बिजली का यही हाल है। इन जगहों पर भी कई घंटों तक बिजली गुल हो रही है।

Edited By: Kamal Verma