इस्लामाबाद (एजेंसी)। इस्लामाबाद (एजेंसी)। क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान अब पाकिस्तान के वजीर-ए-आलम बन गए हैं। उन्होंने शनिवार को पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली। इस्लामाबाद स्थित राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने उन्हें प्रधानमंत्री पद की शपथ दिलाई। शुक्रवार को नेशनल असेंबली ने उन्हें अपना प्रधानमंत्री चुना था। इमरान के शपथ समारोह में उनकी बेगम बुशरा भी शामिल हुईं।

कौन-कौन शामिल
शपथ ग्रहण समारोह में क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू, वसीम अकरम, एक्‍टर जावेद शेख, पंजाब के नामित गवर्नर चौधरी सरवर, पंजाब असेंबली के स्‍पीकर परवेज इलाही, रमीज राजा और पीटीआइ नेताओं के अलावा अन्‍य लोग मौजूद रहे। साथ ही, पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा, ज्‍वॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी के चेयरमैन जुबैर महमूद हयात और चीफ ऑफ एयर स्‍टाफ मार्शल मुजाहिद अनवर खान भी राष्ट्रपति भवन में मौजूद रहे।

बाजवा से गले मिले सिद्धू, मिलाया हाथ
वहीं, इमरान खान के शपथ समारोह में पहुंचे सिद्धू पाक सेना प्रमुख बाजवा ने गर्मजोशी से गले मिले और दोनों ने एक-दूसरे से हाथ मिलाया।

इमरान के पक्ष में पड़े 176 वोट
बता दें कि शुक्रवार को नेशनल असेंबली ने इमरान खान को प्रधानमंत्री के रूप में चुना। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) के चेयरमैन 65 वर्षीय इमरान खान को 176 वोट मिले, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी शाहबाज को मात्र 96 वोट मिले।

इमरान को नया प्रधानमंत्री चुना 
342 सदस्यों वाली पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में सरकार बनाने के लिए 172 वोट की जरूरत होती है। लेकिन शुक्रवार को सियासी उठापटक देखने को मिली। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शाहबाज की पीएम पद की उम्मीदवारी को लेकर विपक्ष में दरार साफ नजर आई। बिलावल भुट्टो की नेतृत्व वाली पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। उसके 54 सांसद हैं। इस कारण पीएम पद के लिए चुनाव मात्र औपचारिक रह गया।

Posted By: Nancy Bajpai

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस