लाहौर, आइएएनएस। पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने अपने भाई और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को उपचार के लिए विदेश यात्रा की अनुमति देने के पाकिस्तान सरकार के सशर्त फैसले को खारिज कर दिया है।  उन्होंने कहा कि पार्टी की कानूनी टीम ने फैसले के खिलाफ लाहौर उच्च न्यायालय (एलएचसी) से संपर्क किया है।

 एग्जिट कंट्रोल लिस्ट से नाम हटाने की मांग

पाकिस्तानी मीडिया डॉन न्यूज के अनुसार,  यह घोषणा तब की गई जब शहबाज शरीफ गुरुवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। एलएचसी की दो सदस्यीय पीठ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज राष्ट्रपति की याचिका पर एग्जिट कंट्रोल लिस्ट से पूर्व प्रमुख का नाम हटाने की मांग करेगी।            

 दायर की याचिका में कही गई ये बात 

याचिका में यह भी कहा गया है कि अदालत क्षतिपूर्ति बांड के लिए शर्त को अवैध घोषित करे। उच्च न्यायालय ने पहले ही सरकार को याचिका पर लिखित जवाब प्रस्तुत करने के लिए नोटिस जारी किया है। सुनवाई शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।  गौरतलब है कि इमरान सरकार ने मंगलवार को घोषणा की थी कि नवाज शरीफ को चार सप्ताह की अवधि के लिए अपने चिकित्सा उपचार के लिए सिर्फ एक बार ही विदेश जाने की  अनुमति दी जाएगी। इसी के साथ यह कहा गया कि ये अनुमति उनके परिवार को 7.5 बिलियन क्षतिपूर्ति बांड भरने के बाद ही ये अनुमति मिलेगी।               

शहबाज शरीफ ने इमरान सरकार की निंदा 

गुरुवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस में, शहबाज शरीफ ने कहा कि सरकार ने पीएमएल-एन से नवाज शरीफ को विदेश यात्रा की अनुमति के लिए क्षतिपूर्ति बॉन्ड जमा करने के लिए कहा है। वास्तव में ये फिरौती की मांग की गई है। ये निर्णय किसी भी हालत में स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने कहा पीएमएल-एन सुप्रीमो के स्वास्थ्य को लेकर प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी टीम द्वारा राजनीतिक खेल निंदनीय है। 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप