इस्लामाबाद/श्रीनगर (रॉयटर्स)। जम्मू-कश्मीर के सुंजवां में आतंकी हमले को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा अंजाम दिया गया जिसमें पांच सैनिक अभी तक शहीद हो चुके हैं। इस हमले के बाद पाकिस्तान सतर्क हो गया है और उसे लग रहा है कि भारत फिर से सीमा पार कर आतंकियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है, इसी को ध्यान में रखते हुए पाकिस्तान ने भारत को चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि वह इस तरह की कोई कार्रवाई ना करे जिससे हालात और तनावपूर्ण हो जाएं।

भारत ने कहा है कि सुंजवां में किए गए आतंकी हमले में जो आतंकवादी मारे गए हैं उनके पास से बड़ी संख्या में हथियार और गोलाबारूद बरामद हुआ है और ये सभी आतंकी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से ताल्लुक रखते हैं  जिनका मुखिया मसूद अजहर है। पाकिस्तान का कहना है बिना किसी जांच के पाकिस्तान पर आरोप लगाना ठीक नहीं है। पाकिस्तान ने खुद को परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र बताया है तो अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से भी जम्मू-कश्मीर में हस्तक्षेप की मांग की है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने आज एक बयान जारी करते हुए कहा है, 'भारत का हमेशा से एक नजरिया रहा है कि वह बिना किसी जांच के हर घटना के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार बता देते हैं। यह आरोप इसलिए लगाए जाते हैं तांकि कश्मीर में फौज की क्रूरता से लोगों का ध्यान भटकाया जा सके। हमें उम्मीद है कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय इसे देख रहा होगा।' इसके अलावा पाकिस्तान ने एलओसी पार किसी भी तरह की जवाबी कार्रवाई को लेकर भी भारत को चेताया है। 

आपको बता दें कि भारत लंबे समय से यह कहता हुआ आ रहा है कि कश्मीर में होनी वाली आतंकी घटनाओं के लिए आतंकवादियों को पहले पाकिस्तान में प्रशिक्षण दिया जाता है और पाकिस्तानी सेना की मदद से उन्हें भारतीय सीमा में दाखिल कराया जाता है।  सुंजवां मे हुए आतंकी हमले में मारे गए आतंकवादियों के पास से पाकिस्तानी सेना द्वारा प्रयोग की जाने वाली असॉल्ट राइफलें, ग्रेनेड लांचर और ग्रेनेड मिले हैं। 

आपको बता दें कि नियंत्रण रेखा के नजदीक स्थित भारतीय सैन्य ठिकाने पर 2016 में हुए आतंकी हमले में 18 जवान शहीद हुए थे। इसके बाद भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पार करके आतंकियों के लांचिंग पैड पर कार्रवाई की थी। कार्रवाई कई पाकिस्तानी सैनिकों समेत करीब 40 लोग मारे गए थे। इसके बाद भारतीय सैनिकों के सिर काटने की घटना के बाद एक बार फिर भारतीय सैनिकों ने सीमा पार करके कार्रवाई की। ऐसे में पाकिस्तान को फिर डर सता रहा है कि कहीं भारतीय सेना बदला चुकाने को फिर सर्जीकल स्ट्राइक जैसी कार्रवाई न कर दे। 

  

Posted By: Kishor Joshi