नई दिल्ली, आइएएनएस। संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) के 75वें सत्र से पहले अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान जम्मू एवं कश्मीर मुद्दे की ओर आकर्षित करने के लिए पाकिस्तान एक नए प्रोपेगेंडा को अंजाम देने जा रहा है। वह शनिवार से ऑनलाइन भारत विरोधी अभियान और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर 'फ्री कश्मीर' दुष्प्रचार शुरू करने जा रहा है। खुफिया सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान ने ट्विटर पर 'कश्मीर वांट्स फ्रीडम' हैशटैग के साथ दुनिया भर में अभियान चलाने की साजिश रची है और 19 सितंबर से इसे शुरू करने जा रहा है।

सूत्रों ने कहा कि दुष्प्रचार से लगता है कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र से पहले भारत सरकार को निशाना बनाना शुरू किया है। यह पूरी तरह से निराधार और मनगढंत तर्कों पर आधारित है। पाकिस्तानी सेना और उसकी खुफिया एजेंसी आइएसआइ शनिवार से ऑनलाइन भारत विरोधी अभियान शुरू करेगी। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 25 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र को संबोधित करेंगे। इसके एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सत्र को संबोधित कर सकते हैं।

संयुक्त राष्ट्र महासभा का 75वां सत्र 15 सितंबर से शुरू हुआ है। संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों के प्रतिनिधि 22 सितंबर से शुरू होने जा रही आम बहस को वर्चुअल संबोधित करेंगे। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री खान इस मंच का इस्तेमाल भारत-पाक संघर्ष और नियंत्रण रेखा का मुद्दा उठाने के लिए करेंगे। उनका सबसे ज्यादा जोर कश्मीर पर रहेगा। पांच अगस्त 2019 से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया है। भारत ने इसी दिन जम्मू एवं कश्मीर से संबंधित अनुच्छेद-370 समाप्‍त कर दिया था।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस