इस्लामाबाद, एएनआइ। अनुच्छेद-370(Article 370) पर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। अनुच्छेद-370 को खत्म करने के भारत के फैसले से पाकिस्तान तिलमिला उठा है। इस मुद्दे पर अपनी संसद में पूरी तरह घिर चुके पीएम इमरान खान ने इस बीच राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) की एक और बैठक की। इस बैठक में पाकिस्तान की सेना के तीनों प्रमुख मौजूद रहे। बता दें, भारत के आर्टिकल 370 पर लिए गए फैसले से बौखलाए पाकिस्तान ने कहा कि वह भारत के इस कदम का मुकाबला करने के लिए सभी संभावित विकल्पों का इस्तेमाल करेगा।पाकिस्तान के अगले कदम पर भारत की पैनी नजर बनी हुई है।

भारत के खिलाफ कूटनीतिक हमले की तैयारी
इससे पहले मंगलवार को पाकिस्तान सरकार ने भारत के कदम के खिलाफ कूटनीतिक हमला बोलने के लिए सात सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। पाकिस्तान सरकार के एक नोटिफिकेशन में ये जानकारी दी गई। इस कमेटी में विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल मंसूर खान, विदेश सचिव सोहेल महमूद और प्रधानमंत्री के विशेष अहमद बिलाल सूफी शामिल हैं। इंटर सर्विसेज़ इंटेलीजेंस (ISI) के डायरेक्टर जनरल, मिलिट्री ऑपरेशन्स के डायरेक्टर जनरल (DGMO) और इंटर सर्विसेज़ पब्लिक रिलेशन्स (ISPR)भी कमेटी का हिस्सा है।

'भारत ने और पुलवामा जैसे हमलों को न्योता दिया'
इससे पहले पाकिस्तान में भारत के आंतरिक मामले को लेकर संयुक्त सत्र बुलाया गया। इस दौरान पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने भारत के खिलाफ गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। इमरान खान ने कहा कि वो भारत के इस कदम का कड़ा विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि वो इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाएंगे। इमरान खान ने यहां तक कह दिया कि भारत के इस कदम से कश्मीर में हालात और खराब होंगे। भारत के इस फैसले से इमरान खान इतने आगबबूला हो उठे कि उन्होंने यहां तक कह डाला कि अनुच्छेद-370 से छेड़छाड़ करके पुलवामा जैसे और हमलों को न्योता दिया है। इमरान खान ने कहा कि दोनों देशों के बीच कश्मीर पर हुए युद्ध का पूरी दुनिया के लिए गंभीर परिणाम होंगे।

भारत पर हमले की बात कर रहा पाकिस्तान
भारत के फैसले से पाकिस्तान पूरी तरह हिल गया है। पाकिस्तान की बौखलाहट इस कदर बढ़ गई है कि वह अब भारत पर हमले की बात करने लगा हैं। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान भारत पर हमले की बात कह रहे हैं। पाकिस्तानी पीएम के साथ उनका विपक्ष भी बौखलाहट में है। विपक्ष के नेताओं से इमरान खान ने पूछा कि विपक्ष के नेता क्या चाहते हैं? क्या मुझे पाकिस्तानी सेना को भारत पर हमले का आदेश दे देना चाहिए ? इस बयान से साफ है कि पाकिस्तान और वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान किस कदर बौखला गए है। 

PAK की 'परमाणु' पर गीदड़भभकी 
भारत के अनुच्छेद-370 (Article 370) को रद करने के फैसले के बाद पाकिस्तान ने इसकी कड़ी निंदा की इस कदम को अवैध, एकतरफा कदम बताया है। भारत को प्रतिक्रिया देते हुए पाकिस्तान इमरान खान ने कहा कि इस कदम से दो परमाणु संपन्न देशों के बीच  संबंध और खराब होंगे।

पाकिस्तानी सेना में खलबली
जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 से हटाए जाने के फैसले से पाकिस्तानी संसद ही नहीं, बल्कि पाकिस्तान सेना भी बौखला उठी है। एक तरफ पाकिस्तान की नेशनल असेंबली और सीनेट में इसको लेकर हंगामेदार बहस हुई तो दूसरी ओर पाकिस्तानी सेना प्रमुख ने सभी कमांडरों के साथ एक बैठक की। पाकिस्तानी सेना प्रमुख बाजवा ने इस बैठक में भारत को धमकी देते हुए कहा कि कश्मीरियों की मदद के लिए उनकी सेना किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार है।

भारत के आर्टिकल 370 हटाने के फैसले के बाद जनरल बाजवा ने सैन्य कमांडरों की बैठक बुलाई थी। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जनरल बाजवा ने कहा कि जम्मू और कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लेने और भारत में किसी भी अन्य राज्य की तरह व्यवहार करने का निर्णय घाटी में दशकों पुराने अलगाववादी आंदोलन को समाप्त करने के उद्देश्य से किया गया है।

फवाद चौधरी ने दी युद्ध की धमकी
भारत को धमकी देने वालों में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ही अकेले नहीं हैं। इमरान खान के मंत्री भी भारत को गीदड़भभकियां दे रहे हैं। इमरान खान सरकार में मंत्री फवाद चौधरी भारत को युद्ध की धमकी दी है। फवाद चौधरी ने कहा है कि अब भारत को खून और आंसू से जवाब देना होगा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप