लंदन, आइएएनएस। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपने इलाज के लिए एकबार पाकिस्तान से बाहर जाएंगे। नवाज शरीप ने कथित तौर पर डॉक्टरों की सलाह ली। उनके परिवार ने इलाज के लिए उन्हें विदेश जाने के लिए राजी कर लिया है। परिवार के एक सूत्र ने गुरुवार को पाकिस्तान के डॉन न्यूज के हवाले से बताया कि शरीफ आखिरकार लंदन जाने को तैयार हो गए, क्योंकि डॉक्टरों ने उन्हें स्पष्ट रूप से बताया कि अब आगे पाकिस्तान में उनका इलाज नहीं हो सकता है, क्योंकि यहां चिकित्सा उपचारों की कमी है। लिहाजा विदेश जाना ही एकमात्र विकल्प है।

इससे पहले भी अटकलें लगाई जा रही थीं कि नवाज शरीफ अपने छोटे भाई शहबाज शरीफ के साथ इलाज के लिए लंदन जा सकते हैं। यह जानकारी एक मीडिया रिपोर्ट में मिली थी। शरीफ को कई बीमारियों के इलाज के लिए पाकिस्तानी अस्पताल में अपने दो सप्ताह के प्रवास के बाद बुधवार को लाहौर में अपने व्‍यक्तिगत उमरा रायविंड निवास में स्थानांतरित कर दिया गया था।

सरकार की मंजूरी का इंतजार

डॉक्टरों की रिपोर्ट के अनुसार, सरकार एक या दो दिन में शरीफ का नाम एक्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) से हटा सकती है, जिससे वह पाकिस्तान छोड़ सकें।सूत्र ने आगे कहा कि शरीफ इस हफ्ते लंदन के लिए रवाना हो सकते हैं अगर उनका नाम ईसीएल से हटा दिया गया।

उन्होंने कहा, 'हालांकि शरीफ विदेश में सेवा अस्पताल के मेडिकल बोर्ड की सिफारिशों और शरीफ मेडिकल सिटी के मेडिक्स और अपने परिवार के सदस्यों के अनुरोध के बाद विदेश जाने के लिए तैयार नहीं थे, उन्होंने आखिरकार सहमति दे दी।'

शरीफ के स्वस्थ होने की उम्मीद

वर्तमान में, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की प्लेटलेट की गिनती 24,000 तक गिर गई है।डॉक्टरों के अनुसार, (हवाई) यात्रा के लिए एक मरीज को फिट घोषित करने के लिए 50,000 प्लेटलेट्स या उससे ज्यादा की जरूरत होती है। इसलिए डॉक्टर इसका इंतजार कर रहे हैं।

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप