मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

इस्लामाबाद, पीटीआइ। पीएम इमरान खान के करीबी सहयोगी और विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी हमेशा से ही अपनी गलत बयानबाजी के लिए ट्रोल होते रहे है। उन्होंने हाल में भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन द्वारा भेजे गए चंद्रयान 2 का भी मजाक बनाया था। हालांकि, भारत की छवि को नुकसान पहुंचाने में लगे चौधरी खुद बेहत छोटी हरकत कर रहे है, जिसके लिए पाकिस्तानी कोर्ट द्वारा उनको अयोग्य घोषित करने का नोटिस भी जारी किया गया है।

बता दें कि पाकिस्तान की एक अदालत ने गुरुवार को चुनाव आयोग और कानून मंत्रालय को एक नोटिस जारी किया। इसमें फवाद चौधरी को उनकी संपत्ति की घोषणा करने में विफल रहने के लिए अयोग्य घोषित करने की मांग की गई। आवेदन पर सुनवाई इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) के मुख्य न्यायाधीश अथार मिनल्लाह द्वारा की गई थी।

चौधरी नहीं है ईमानदार
सुनवाई के दौरान, याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि चौधरी अब सादिक (ईमानदार) और अमीन (सच्चा) नहीं है क्योंकि वह झेलम में अपनी जमीनों की घोषणा करने में विफल रहा है, यही कारण है कि अदालत को संघीय मंत्री को अयोग्य घोषित करना चाहिए। याचिकाकर्ता के वकील ने आगे कहा कि चौधरी ने चुनाव अधिकारी के साथ नामांकन पत्र जमा करते समय अपनी संपत्ति छुपाई थी।

इस दौरान याचिका की स्वीकार्यता पर सुनवाई शुरू होने के साथ, मिनल्लाह ने अधिवक्ता से पूछा कि क्या उच्च न्यायालय को राजनीतिक मामलों में हस्तक्षेप करना चाहिए।

Chandrayaan-2 को बताया था खिलौना
पूरी दुनिया ने जहां भारत के महत्वाकांक्षी मून मिशन चंद्रयान-2 के लिए इसरो और भारतीय वैज्ञानिकों का लोहा माना, वहीं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान यहां भी अपनी ओछी हरकत दिखाई थी। इसपर मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने बेहूदा टिप्पणी की थी। कहा था, जो काम आता नहीं पंगा नहीं लेते ना.... डियर 'एंडिया'। फवाद ने ट्वीट में व्यंग्य करते हुए इंडिया की जगह एंडिया लिखा।

उन्होंने एक भारतीय यूजर के ट्वीट पर बड़ी बेशर्मी से रिट्वीट किया। भारतीय यूजर अभय कश्यप के ट्वीट पर रिट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा, 'सो जा भाई मून की बजाय मुंबई में उतर गया खिलौना'। इसके बाद वे ट्रोल हुए, तो लिखा कि मुझे ऐसे ट्रोल किया जा रहा है, जैसे मैंने ही इस मिशन को फेल कर दिया हो।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप