रोम, एजेंसी। Wild Pigs Eat Cocaine in Italy यह तो आपने सुनी ही होगी कि 'चोरों के घर मोर'... इसका मतलब चोर के घर में चोरी होने से से है। इटली के टस्कन क्षेत्र में मौजूद जंगल में नशे की तस्करी करने वालों के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। रिपोर्टों में कहा गया है कि यहां जंगल में छुपाई गई करीब 15 लाख रुपये कीमत की कोकीन जंगली सूअर खा गए। हालांकि पुलिस को इस वाकये का पता चल गया और उसने तस्‍करों को गिरफ्तार कर लिया। 

टस्कन क्षेत्र के जंगलों में कई सालों से ड्रग तस्कर सक्रिय हैं। यहां से बड़े पैमाने पर कोकीन, चरस, गांजा आसपास के देशों में सप्लाई की जाती थी।  पुलिस को इनकी खोजबीन में कड़ी मशक्‍कत करनी पड़ती है। ऐसे की कुछ तस्‍करों की सूचना मिलने पर पुलिस कई दिनों से इनके पीछे पड़ी थी। ऐसे में पकड़े जाने के डर से तस्करों ने करीब 15 लाख रुपये की कोकीन जंगल में यह सोचकर से छुपा रखी थी कि पुलिस कभी इसका पता नहीं लगा सकेगी। 

तस्‍करों को क्या पता था कि यह कीमती पाउडर सूअर ढूंढ निकालेंगे और खा जाएंगे। हालांकि, जिन चार तस्करों ने कोकीन छुपाई थी, पुलिस ने उनको गिरफ्तार कर लिया है। इसी तरह की एक घटना 1980 में अमेरिका के केंटकी में हुई थी। तब एक भालू ने लगभग 40 किलोग्राम कोकीन खा लिया था जिससे उसकी मौत हो गई थी। बताया जाता है कि कोकीन की वह खेप भी एक ड्रग डीलर ने ही पुलिस से बचने के लिए जंगल में गिराई थी। 

इसी से मिलती जुलती घटना दो साल पहले भारत के बिहार राज्‍य में भी हुई थी जब कहा गया था कि मालखाने में पड़ी करोड़ों की शराब चूहे पी गए। दरअसल, साल 2017 में तत्‍कालीन एसएसपी मनु महाराज ने पटना नगर निगम चुनावों को देखते हुए सभी थानेदारों की बैठक बुलाई थी। बैठक में मनु महाराज ने थानेदारों से पूछा था कि शराबबंदी लागू होने के बाद जितनी भी शराब जब्त हुई है और जिसे थाने के मालखाने में रखा गया है, उसमें कमी क्यों आ रही है। इसके बाद थानेदारों ने चूहों पर ठीकरा फोड़ते हुए कहा था कि मालखाने में रखी गई करोड़ों की शराब चूहे पी गए। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस