नई दिल्‍ली, जेएनएन। पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की बेगम बुशरा बीबी एक बार फ‍िर सुर्खियों में हैं। दरअसल, बुशरा बीबी का एक आडियो क्लिप शनिवार रात से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उनकी इस आडियो की आंच पाकिस्‍तान में सत्‍ता के गलियारों तक पहुंच रही है। इसके पूर्व कई बार बुशरा बीबी सुर्खियों में रही हैं। हाल में इमरान सरकार के अल्‍पमत में आने के बाद वह सुर्खियों में रही है। आइए जानते हैं कि आखिर कौन है बुशरा बीबी। आज इस कड़ी में आप को बुशरा बीबी के अनछुए पहलुओं के बारे में बताएंगे।

आखिर क्‍या है इस आडियो में

इस आडियो क्लिप में बुशरा बीबी इमरान खान के प्रवक्ता डा अर्सलान खालिद को कथित तौर पर देशद्रोह का नैरेटिव फैलाने के लिए कहती सुनाई दे रही हैं। दो मिनट की आडियो क्लिप की शुरुआत खान की पत्नी की नाराजगी के साथ होती है। वह सोशल मीडिया पर एक्टिव न रहने के लिए खालिद पर अपना गुस्सा जाहिर करती हैं। बुशरा बीबी ने कथित तौर पर अर्सलान से अपनी टीम को रूस से तेल न खरीदने के सरकार के मुद्दे को उठाने और इमरान खान के साथ गद्दारी से जोड़ने का निर्देश देने के लिए कहा। आडियो में बुशरा ने अर्सलान से कहा कि आप इस मुद्दे को दबने नहीं दे सकते। उन्होंने एक ट्रेंड बनाने के लिए कहा ताकि लोगों को पता चल सके कि 'देश और इमरान के साथ गद्दारी की जा रही है। बुशरा ने कहा कि मैं यह सिर्फ आपको बता रही हूं... आप इसकी चर्चा किसी के भी साथ न करें।

कैसे हुआ इमरान और बुशरा का मिलन

1- इमरान की तीसरी बेगम यानी बुशरा बीबी खुद को आध्यात्मिक हीलर बताती हैं। इमरान से शादी के बाद बुशरा ने उनकी पार्टी पीटीआई पर एक तरह से कब्‍जा सा जमा लिया है। पाकिस्तानी मीडिया में इस बात की चर्चा रहती है कि बुशरा ने इमरान पार्टी के अंदर अपना अलग धड़ा बना रखा है। बड़ी संख्या में उनके समर्थक उनके प्रति वफादारी रखते हैं। इमरान ने अपनी दूसरी पत्‍नी रेहम खान से तलाक लेने के बाद बुशरा बीबी के साथ वर्ष 2018 में निकाह किया था।

2- पाकिस्‍तानी अखबार डान के मुताबिक इमरान पिछले एक दशक सूफी संप्रदाय की ओर झुके हैं। इसी दौरान वह बुशरा के घर पर रुकते थे। इसी दौरान उनका बुशरा से संपर्क हुआ। हाल में यह दावा किया जा रहा था कि इमरान खान और बुशरा बीबी के बीच मनमुटाव बढ़ गया है। दोनों की शादी टूटने की कगार पर पहुंच गई है। बुशरा बीबी के बारे में कहा जा रहा है कि वह इमरान खान के महल बनी गाला को छोड़कर लाहौर अपनी दोस्‍त के घर चली गई हैं। हालांकि, इमरान खान की पार्टी ने इस पूरे दावे को खारिज किया है।

3- इमरान खान की सियासी पारी में बुशरा बीबी का बड़ा रोल रहता है। अपनी इस भूमिका के कारण उन्‍हें इमरान की पार्टी में गाडमदर की संज्ञा दी जाती है। इमरान के बारे में भी कहा जाता है कि वह पार्टी के अंदर विरोध के स्वर या महिलाओं की नाराजगी पर बुशरा को आगे कर देते हैं। इमरान खान की पार्टी के सदस्यों की पार्टी से ज्यादा बुशरा के प्रति वफादारी है। दिलचस्प बात यह है कि बुशरा को 'काला जादू' करने वाला बताया जाता है। वह खुद को मिस्टिक और आध्यात्मिक हीलर बताती हैं। वह अपने गुस्‍से के लिए भी जानी जाती हैं। यह कहा जाता है कि बुशरा ने 20 पाकिस्तानी अधिकारियों का ट्रांसफर सिर्फ इसलिए करा दिया था, क्योंकि वह उनके लिए दरवाजा खोलने में देर कर रहे थे।

4- बुशरा बीबी पर पर्दे के पीछे सरकार चलाने के आरोप लग चुके हैं। पूर्व में इमरान खान अपने एक साक्षात्‍कार में इस बात को कबुल कर चुके हैं। इमरान ने कहा था कि उनकी पत्‍नी बहुत बुद्धिमान हैं। इसी क्रम में उन्‍होंने कहा था कि वह सरकार से जुड़े हर मुद्दे पर अपनी पत्‍नी के साथ परिचर्चा करते हैं। इमरान खान ने अपनी सरकार के सफलतापूर्वक संचालन के लिए पत्‍नी बुशरा बीबी को सारा क्रेडिट दिया था। इमरान ने कहा था कि इसमें वे समस्‍याएं भी शामिल हैं, जिनका मैं सरकार चलाते समय और जटिल परिस्थितियों का सामना करते समय करता हूं। इमरान खान ने कहा था कि बुशरा मेरी हमसफर हैं। उनके बिना मेरी जिंदगी आसान नहीं होगी। इमरान के इस बयान के बाद विपक्ष ने उन पर निशाना साधा था। 

पूर्व में इस आडियो से मचा था कोहराम

1- इसके पूर्व इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की महिला सांसद उज्मा कारदार का एक आडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हुआ था। इसमें उज्मा ने अपने किसी पत्रकार मित्र के साथ बातचीत में इमरान खान की तीसरी पत्नी बुशरा बीबी और पाकिस्तानी सेना पर जमकर आरोप लगाया था। उज्मा ने इसमें कहा था कि पाकिस्तान की सरकार इमरान की पत्नी बुशरा बीबी चला रही हैं। इमरान अपनी बेगम से बिना पूछे कोई काम नहीं कर सकते। बुशरा बीबी इमरान खान का चेहरा पढ़ लेती हैं।

2- इसमें कहा गया था कि बुशरा जिन्नों से बात करने वाली महिला हैं। बुशरा को पता चल जाता है कि इमरान का आज का दिन कैसा बीता। उज्मा ने इस आडियो में कहा था कि इमरान सरकार को बुशरा ही चला रही हैं। बुशरा ने घर में एक लाइन खींच दी है, उसके आगे कोई भी नहीं जा सकता। पहले तो हम लोग आराम से इमरान के घर चले जाते थे, लेकिन बुशरा के आने के बाद बाकी को तो छोड़िए शाह महमूद कुरैशी भी अंदर नहीं जा सकते हैं। इस बातचीत के दौरान उज्मा ने पाकिस्तानी फौज को लेकर भी काफी कुछ कहा था। उन्होंने इस बातचीत में फौज को एस्टेबिलिशमेंट के नाम से संबोधित किया है।

बुशरा पर लगे भ्रष्‍टाचार के ओराप

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने दावा किया है कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार के कार्यकाल में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी पत्नी बुशरा बीबी और उनकी दोस्त फराह गोगी की तिकड़ी ने अरबों रुपये कमाए। पीएमएल-एन के नेता अत्ता उल्लाह तरार कहा था कि यह मामला 2019 में शुरू हुआ, जब इमरान खान ने फराह के पति अहसान जमील गुर्जर को 32 करोड़ पाकिस्तानी रुपये की राहत दी। पूर्व प्रधानमंत्री ने बुशरा और फराह के बीच अपने निजी संबंधों और दोस्ती के कारण यह राहत दी थी। इस बारे में उन्होंने एक आडियो टेप भी चलाया, जिसमें कथित तौर पर एक बिजनेस टाइकून और उनकी बेटी के बीच की बातचीत थी। इस बातचीत में यह खुलासा किया गया कि कैसे फराह ने बुशरा के लिए एक उपहार की मांग की। महिला ने अपने पिता से कहा कि फराह ने कथित तौर पर एक प्रोजेक्ट को फिर से शुरू करने और उसके पिता के खिलाफ एक रिपोर्ट वापस के बदले में पूर्व प्रधानमंत्री की पत्नी के लिए उपहार के रूप में एक कीमती हीरे की मांग की।

Edited By: Ramesh Mishra