Move to Jagran APP

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की बेटी पहुंची सैनिकों से मिलने, पत्नी भी हुईं कार्यक्रम में शामिल

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन अपनी बेटी को देश की सेना की 75वीं स्थापना वर्षगांठ के अवसर पर सैनिकों से मिलने के लिए लेकर आए। इस दौरान उन्होंने अपनी परमाणु-सशस्त्र सेना की शक्ति की सराहना की। इसकी जानकारी बुधवार को सरकारी मीडिया ने दी।

By Jagran NewsEdited By: Versha SinghPublished: Wed, 08 Feb 2023 03:56 PM (IST)Updated: Wed, 08 Feb 2023 03:56 PM (IST)
उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की बेटी पहुंची सैनिकों से मिलने, पत्नी भी हुईं कार्यक्रम में शामिल
उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की बेटी पहुंची सैनिकों से मिलने

सियोल, एजेंसी। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन अपनी बेटी को देश की सेना की 75वीं स्थापना वर्षगांठ के अवसर पर सैनिकों से मिलने के लिए लेकर आए। इस दौरान उन्होंने अपनी परमाणु-सशस्त्र सेना की शक्ति की सराहना की। इसकी जानकारी बुधवार को सरकारी मीडिया ने दी।

loksabha election banner

संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए बढ़ेगी चिंता

उत्तर कोरिया राजधानी प्योंगयांग में एक विशाल सैन्य परेड आयोजित करने की तैयारी कर रहा है, जहां यह एक बढ़ते परमाणु हथियार कार्यक्रम के नवीनतम हार्डवेयर का प्रदर्शन कर सकता है, जो उसके पड़ोसियों और संयुक्त राज्य अमेरिका की चिंता को बढ़ाता है।

अपनी चौथी सार्वजनिक उपस्थिति में, किम की बेटी किम जू ऐ, जो 9 या 10 साल की मानी जाती हैं, अपने पिता के साथ खड़ी थी। इस दौरान उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से हाथ मिलाया और एक मेज पर उनके बगल में बैठ गईं।

विश्लेषकों का कहना है कि किम का अपनी बेटी को अपनी सेना से जुड़े सार्वजनिक कार्यक्रमों में लाने का फैसला दुनिया को यह याद दिलाने के लिए है कि उनका स्वेच्छा से अपने परमाणु हथियारों को आत्मसमर्पण करने का कोई इरादा नहीं है।

बेटी के कार्यक्रम में शामिल होने से छिड़ी नई बहस

सरकारी मीडिया द्वारा किम जू ऐ के लगातार सेना के कार्यक्रम में शमिल होने के चलते एक नई बहस छिड़ गई है। लोगों का कहना है कि क्या उसे अपने पिता के उत्तराधिकारी के रूप में प्राथमिकता दी जा रही है?

बता दें कि किम की बेटी ने नवंबर में एक अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल के उड़ान परीक्षण में भाग लिया और अपने पिता के साथ सैन्य वैज्ञानिकों के साथ बैठक और बैलिस्टिक मिसाइलों का निरीक्षण भी किया था।

उत्तर कोरिया की आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने बुधवार को कहा कि किम ने अपनी बेटी के साथ कोरियन पीपुल्स आर्मी के जनरल ऑफिसर्स के लॉजिंग क्वार्टर का दौरा किया।

बाद में उन्होंने एक भोज में सैनिकों को संबोधित किया। इस दौरान किम ने बाहरी कठिनाइयों के बावजूद "दुनिया की सबसे मजबूत सेना" बनाए रखने के लिए अपने सैनिकों की प्रशंसा की।

किम जोंग उन के साथ पत्नी भी हुईं कार्यक्रम में शामिल

राज्य मीडिया की तस्वीरों में सैन्य अधिकारियों को भोज में तालियां बजाते हुए दिखाया गया है, जो प्योंगयांग के यांगगाक्डो होटल में आयोजित किया गया था। किम और उनकी बेटी ने काले सूट और सफेद ड्रेस शर्ट में एक जैसे कपड़े पहने और किम की पत्नी री सोल जू के साथ रेड कार्पेट पर चलते हुए हाथ पकड़े हुए हैं।

किम ने अपने भाषण के दौरान कहा कि दुनिया की सबसे मजबूत सेना के रूप में समय और इतिहास की पुकार को पूरा करने वाली सेना का सर्वोच्च कमांडर होना उनके लिए सबसे बड़ा सम्मान और खुशी की बात है।

किम की सैनिकों की यात्रा पर राज्य की मीडिया रिपोर्टों में वाशिंगटन या सियोल की ओर की गई किसी भी टिप्पणी का उल्लेख नहीं किया गया है लेकिन प्योंगयांग के आधिकारिक रोडोंग सिनमुन अखबार ने बुधवार को एक संपादकीय में कहा कि उत्तर की सेना दुश्मन की धमकियों का सामना करते हुए हमला करने के लिए तैयार है।

यह भी पढ़ें- China Spy Balloon: चीन के जासूसी गुब्बारों ने भारत समेत कई देशों को बनाया निशाना, अमेरिकी अखबार का बड़ा दावा

यह भी पढ़ें- Haj Yatra: वीजा मिलने के बाद भारतीय नागरिक ने पाकिस्तान में किया प्रवेश, पैदल ही हज यात्रा पर निकला है शिहाब


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.