न्यूजीलैंड, एएफपी। न्यूजीलैंड में तीन माह बाद शुक्रवार को एक शख्स की मौत हो गई जो कोरोना संक्रमित था। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि यह मरीज महामारी के दूसरी लहर के चपेट में आया था जो पिछले माह ऑकलैंड में रिपोर्ट किया गया था।  ऑकलैड में दोबारा आए संक्रमण की लहर को लेेकर एक्सपर्ट की राय है कि इस बार आए वायरस का स्ट्रेन पहली बार से अलग है जिसे 7 सप्ताह के लॉकडाउन में खत्म कर दिया गया था। 

दक्षिण प्रशांत देश में  102 दिनों तक कम्युनिटी ट्रांसमिशन रुका हुआ था। ऑकलैड के मिड्लमोर अस्पताल में शुक्रवार दोपहर को हुई मौत का आंकड़ा 23 हो गया। न्यूजीलैंड में अब तक संक्रमण के मामले 1700 से अधिक हो गए हैं। अभी यहां 112 मामले हैं। उल्लेखनीय है कि न्यूजीलैंड में महामारी के मद्देनजर  आम चुनाव को भी टाला जा चुका है। 

उल्लेखनीय है कि न्यूजीलैंड में मार्च के अंत में सख्ती से लॉकडाउन लागू कर संक्रमण को पूरी तरह काबू कर लिया गया था। उस समय देश में मात्र 100 लोग संक्रमित थे। वहां 102 दिनों तक संक्रमण का कोई नया मामला नहीं आने के बाद न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न की चौतरफा प्रशंसा हुई। उन्होंने लॉकडाउन में हर दिन देश के हालातों क जायजा लिया और सख्ती से लॉकडाउन का पालन कर संक्रमण से निपटने का भरोसा दिलाया।

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम्स साइंस एंड इंजीनियरिंग ने नवीनतम डाटा जारी किया है जिसके अनुसार शुक्रवार सुबह तक दुनिया भर में संक्रमितों का आंकड़ा 2 करोड़ 62 लाख से अधिक हो गया है और मरने वालों का आंकड़ा 8 लाख 67 हजार से अधिक है। संक्रमित देशों में अमेरिका पहले नंबर पर है, यहां कुल संक्रमितों की संख्या 6,149,265 और अब तक मरने वालों का आंकड़ा 186,785 है। दूसरे नंबर पर आने वाले ब्राजील में  40 लाख 41 हजार 6 सौ 38 मामले हैं और  1 लाख से अधिक संक्रमितों की मौत हो चुकी है। तीसरे नंबर पर भारत है  जहां मरने वालों का आंकड़ा 38, 53,406 मामले हैं। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021