सिओल, रायटर। उत्तर कोरिया में संयुक्त राज्य अमेरिका के नए शीर्ष दूत ने सोमवार को सियोल में कहा कि वह उत्तर कोरिया से बातचीत पर "सकारात्मक प्रतिक्रिया" के लिए तत्पर हैं।उत्तर कोरिया के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि सुंग किम पांच दिवसीय यात्रा के लिए दक्षिण कोरिया में हैं, प्योंगयांग के साथ परमाणु निरस्त्रीकरण वार्ता में गतिरोध के बीच, उत्तर से संपर्क करने के लिए किसी भी नियोजित प्रयास के बारे में कोई शब्द नहीं है। किम ने उत्तर कोरिया के आधिकारिक नाम के आद्याक्षर का उपयोग करते हुए कहा, "हमें उम्मीद है कि डीपीआरके हमारे आउटरीच और हमारे प्रस्ताव के लिए सकारात्मक प्रतिक्रिया देगा, बिना किसी पूर्व शर्त के कहीं भी, कभी भी।

किम शनिवार को पहुंचे। जिसके एक दिन बाद उत्तर कोरियाई मीडिया ने बताया कि किम जोंग उन ने संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ बातचीत और टकराव दोनों की तैयारी का आग्रह किया, विशेष रूप से टकराव पर उनका जोर ज्यादा रहा। अमेरिका राजदूत सुंग किम ने कहा कि हम दोनों में से किसी एक के लिए भी तैयार रहेंगे, क्योंकि आप जानते हैं, हम अभी भी प्योंगयांग से मिलने का इंतजार कर रहे हैं। उम्मीद है कि बातचीत से संकेत मिलता है कि हमें जल्द ही सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलेगी।

'पाकिस्तान अब अमेरिका को नहीं देगा अपने सैन्य अड्डे'

चीन से पेंगे ब़़ढा चुके पाकिस्तान के रख में एक ब़़डा परिवर्तन दिखाते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने साफ कहा कि वो अफगानिस्तान में किसी भी तरह के हमले के लिए अमेरिकी सेना को अपना कोई भी सैन्य बेस नहीं देंगे। यहां तक कि वो किसी भी तरह के हमले चाहे वो आतंकवाद के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के तहत ही क्यों न हो, पाकिस्तान की जमीन का इस्तेमाल भी नहीं करने देंगे।

अंतरराष्ट्रीय चैनल एचबीओ के लिए एक्सियोज को दिए अपने इंटरव्यू में जब साक्षात्कारकर्ता जोनाथन स्वान ने उनसे पूछा कि क्या सच में तो इमरान ने जोर देकर कहा कि हां, जरूर। 

Edited By: Shashank Pandey