नाएप्यीडॉ, एएफपी। म्यांमार नेता आंग सान सू ची ने रोहिंग्या मुद्दे पर चुप रहने के लगे आरोपों का जवाब देते हुए कहा है कि वो इसलिए चुप थीं क्योंकि वो तनाव नहीं पैदा करना चाहतीं थीं। उन्होंने कहा कि वो चुप नहीं रहीं हैं बस लोगों को लगा है कि उन्होंने जो भी इस मुद्दे पर कहा है वो काफी नहीं है। 

उन्होंने अपनी ये बात अमेरिका के राज्य सचिव रेक्स टिलरसन के साथ म्यांमार की राजधानी नाएप्यीडॉ में हुई प्रेस वार्ता में कही है। सू ची ने अपनी बात रखते हुए कहा कि उन्होंने जो भी कहा जरूरी नहीं कि वो रोमांचक हो, बस मतलब साफ होना चाहिए। लोगों को एक दूसरे के खिलाफ भड़काना अच्छी बात नहीं। 

अमेरिकी राज्य सचिव ने सू ची से मुलाकात की। इसके बाद सू ची ने अपना ये बयान दिया है। गौरतलब है कि रोहिंग्या के खिलाफ शुरू हुई हिंसा के बाद अब तक तकरीबन 6 लाख से अधिक लोग अपनी जान बचाकर बांग्लादेश पहुंचे हैं। अमेरिका ने इससे पहले भी म्यांमार के राखिन प्रांत में रोहिंग्या और अन्य समुदाय के लोगों पर हो रहे अत्याचारों पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए इसके लिए असामाजिक तत्वों को जिम्मेदार ठहराया है।

यह भी पढ़ें: रोहिंग्‍या संकट पर सू की से मिलेंगे टिलरसन

Posted By: Abhishek Pratap Singh