नई दिल्ली, एएनआइ। भारत में जर्मन राजदूत वाल्टर जे लिंडनर (Walter J Lindner) ने गुरुवार को 1 जून से जर्मनी की यात्रा करने के लिए WHO की तरफ से सूचीबद्ध की गई भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की COVID वैक्सीन COVAXIN को मान्यता देने के लिए जर्मन सरकार की सराहना की।

WHO ने पिछले साल जारी की EUL

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने पिछले साल नवंबर में COVAXIN के लिए एक आपातकालीन उपयोग सूची (EUL) जारी की थी, जिसमें SARS-CoV-2 के कारण होने वाले COVID-19 की रोकथाम के लिए मान्य टीकों के बढ़ते पोर्टफोलियो को जोड़ा गया।

जर्मनी के राजदूत ने ट्विटर पर दी जानकारी

जर्मनी और भूटान में राजदूत लिंडनर ने ट्विटर पर लिखा, मैं बहुत खुश हूं कि जर्मनी की सरकार ने 1 जून से जर्मनी की यात्रा के लिए डब्ल्यूएचओ की तरफ से सूचीबद्ध की गई COVAXIN को मान्यता देने का फैसला किया है! यह दूतावास इस तरह के निर्णय के लिए बहुत सक्रिय रूप से जोर दे रहा है ( क्योंकि कोविड की वजह से बैकलॉग वीज़ा अनुभागों में सामान्य से अधिक प्रतीक्षा अवधि होती है, कृपया धैर्य रखें)।

क्या  है EUL प्रक्रिया

WHO की EUL प्रक्रिया COVID-19 टीकों की गुणवत्ता, सुरक्षा और प्रभावकारिता का आंकलन करती है और COVAXIN की आपूर्ति के लिए एक पूर्वापेक्षा है। यह देशों को COVID-19 टीकों के आयात और प्रशासन के लिए अपने स्वयं के नियामक अनुमोदन में तेजी लाने की भी अनुमति देता है।

'हमारे पास सबसे प्रभावी चिकित्सा उपकरण है'

दवाओं और स्वास्थ्य उत्पादों तक पहुंच के लिए डब्ल्यूएचओ के सहायक-महानिदेशक डॉ मारियांगेला सिमाओ (Dr Mariangela Simao) ने कहा कि यह आपातकालीन उपयोग सूची टीकों की उपलब्धता का विस्तार करती है। महामारी को समाप्त करने के लिए हमारे पास सबसे प्रभावी चिकित्सा उपकरण हैं। 

DCGI ने अप्रैल में कोवैक्सीन को दिया EUA

ड्रग कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया (DCGI) ने अप्रैल में कोवैक्सीन को 6-12 साल के आयु वर्ग के लिए एक आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (ईयूए) भी दिया था। हैदराबाद स्थित फार्मा कंपनी भारत बायोटेक ने एक बयान में कहा कि उसने 2-18 साल की उम्र के स्वस्थ बच्चों और किशोरों में कोवैक्सीन की सुरक्षा, प्रतिक्रियात्मकता और इम्युनोजेनेसिटी का मूल्यांकन करने के लिए चरण II / III, ओपन-लेबल और बहुकेंद्रीय अध्ययन आयोजित किए थे।

रेडी-टू-यूज लिक्विड वैक्सीन है कोवैक्सीन

जून 2021 से सितंबर 2021 के बीच बाल चिकित्सा आबादी में किए गए नैदानिक परीक्षणों ने मजबूत सुरक्षा, प्रतिक्रियात्मकता और प्रतिरक्षात्मकता दिखाई है। कोवैक्सीन को विशिष्ट रूप से तैयार किया गया है ताकि वयस्कों और बच्चों को समान खुराक दी जा सके। कोवैक्सीन एक रेडी-टू-यूज़ लिक्विड वैक्सीन है, जिसे 2-8 डिग्री सेल्सियस पर स्टोर किया जाता है, जिसमें 12 महीने की शेल्फ लाइफ और मल्टी-डोज़ वायल पॉलिसी होती है।

Edited By: Achyut Kumar