मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

इस्लामाबाद [ एजेंसी ] । पुलवामा आतंकी हमले के बाद यूरोपीय संघ (ईयू) ने पाकिस्तान से साफ कहा है कि वह सभी संयुक्त राष्ट्र द्वारा सूचीबद्ध अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठनों पर स्पष्ट और निरंतर कार्रवाई करे। इसमें पुलवामा आतंकी हमले की जिम्‍मेदारी लेने वाले संगठन पर भी कार्रवाई करने के लिए कहा है। बता दें कि 14 फरवरी को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा एक आत्मघाती हमले में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में कम से कम 40 सीआरपीएफ जवानों की मौत हो गई थी। इसके बाद दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंध है।
यूरोपीय आयोग की उपाध्यक्ष और संघ के विदेश मामलों एवं सुरक्षा नीति की उच्च प्रतिनिधि फेडेरिका मोघेरिनी ने पाकिस्तान और भारत से आग्रह किया कि हमले के बाद पैदा हुए तनाव को डी-एस्केलेट किया जाए। उन्होंने रविवार को पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से बात की और मौजूदा स्थिति पर चर्चा की। मोघेरिनी ने पाकिस्‍तान से साफ कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करे। उन्‍होंने कहा कि पुलवामा हमले की जिम्‍मेदारी का दावा करने वाले व्‍यक्तियों पर भी कार्रवाई हो।
उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ की नीति हमेशा पाकिस्तान और भारत के बीच मतभेदों को सुलझाने के लिए एक संवाद को बढ़ावा देने की रही है। पाकिस्तान को अपने नियंत्रण में आने वाले क्षेत्रों से आतंकवादियों और आतंकी संगठनेां के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने को कहा है। उधर, नई दिल्ली ने पाकिस्तान के लिए मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लेने की घोषणा के बाद पाकिस्तान से आने वाले सामानों पर सीमा शुल्क 200 प्रतिशत बढ़ा दिया है।

Posted By: Ramesh Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप