काठमांडू, एएनआइ। नेपाल में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भक्तपुर जिले के अनंतलिंगेश्वर के आसपास आज सुबह 08:14 बजे 3.4 तीव्रता का भूकंप आया। भूकंप का एपिक सेंटर क्‍या था, इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप केंद्र ने बताया कि अभी तक भूकंप से किसी जानमाल के नुकसान की जानकारी नहीं है। 

बताया जा रहा है कि भूकंप देश की राजधानी काठमांडू से 120 किलोमीटर पूर्व में स्थित सिंधुपाल्चोक जिले में देर रात 12 बजकर 55 मिनट पर आया। इस दौरान कई लोग अपने घर से बाहर निकल आए। कुछ लोगों के मुताबिक, बेहद हल्‍के झटके काठमांडू घाटी में भी महसूस किए गए। वैसे बता दें कि नेपाल में अभी तक का सबसे शक्तिशाली भूकंप अप्रैल 2015 में आया था। इस भूकंप की दुखद यादों को शायद की नेपाल कभी भुला पाए। इस जबरदस्‍त भूकंप में लगभग 9,000 लोगों की मौत हुई और कई ऐतिहासिक धरोहर भी नष्‍ट हो गई थीं।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान 50 दिन में चार बार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली भूकंप के झटकों से हिल चुकी है। हालांकि, रिएक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता कम थी। बावजूद इसके दिल्ली के कुछ इलाकों में इसका खतरा अभी टला नहीं है। जानकार बताते हैं कि अभी दिल्ली को भूकंप के झटके और झेलने होंगे। लिथोस्फीयर की प्लेट्स आपस में रगड़ खा रही हैं। एक्‍सपर्ट बताते हैं कि अगर दिल्‍ली में कोई तेज भूकंप आता है, तो जानमाल का भारी नुकसान हो सकता है।

Posted By: Tilak Raj

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस