सैंटियागो, एजेंसी। चिली में विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए राष्‍ट्रपति सेबेस्टियन पिनेरो ने नागरिकों के लिए बड़े पैकेज का ऐलान किया है। बता दें कि लैटिन अमेरिकी देश चिली में मेट्रो किराए में वृद्धि के विरोध में 15 दिनों से हिंसक प्रदर्शन का दौर जारी है। चिली सरकार के लिए यह बड़ा संकट है। प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए अब सरकार ने एक नई योजना पेश की है। चिली सरकार को उम्‍मीद है कि इस योजना से प्रदर्शनकारी मान जाएंगे।

योजना का ऐलान करते हुए राष्‍ट्रपति पिनेरो ने कहा है कि जल्‍द ही नागरिकों के बुनियादी पेंशन को 20 फीसद की वृद्धि की जाएगी। इसके साथ बिजली पर शुल्‍क मुक्‍त करने का भी ऐलान किया है। इसके साथ चिकित्‍सा क्षेत्र में भी एक पैकेज का ऐलना किया गया है। इस स्‍कीम से लोगों का इलाज सस्‍ता होगा।

बता दें कि चिली में मेंट्रो किराए में वृद्धि के बाद जारी हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। राजधानी समेत पांच शहरों में शनिवार सुबह से आपातकाल लागू है। चिली की राजधानी सैंटियागो में प्रदर्शनकारी और पुलिस की झड़प में मरने वालों की संख्‍या बढ़कर 11 हो गई है। हालांकि, राष्‍ट्रपति पिनेरो ने मेट्रो के बढ़े किराए पर रोक लगा दी है, लेकिन यहां जारी हिंसा थमने का नाम नहीं ले रहा है।

स्‍थानीय पुलिस ने 700 से अधिक प्रदर्शनकारियों को लूट और अन्‍य गंभीर अपराधों के आरोप में हिरासत में लिया था। स्‍थानीय अधिकारियों ने बताया कि बिगड़ती कानून व्‍यवस्‍था को ध्‍यान में रखते हुए यहां दूसरी बार कफ्यु लगाया गया है। प्रदर्शन को देखते हुए क्षेत्र में 24 घंटे में दूसरी बार कर्फ्यू की स्थिति उत्‍पन्‍न हुई है। बता दें चिली को लैटिन अमेरिका का सबसे अस्थिर देशों में गिना जाता है। यहां किराए में वृद्धि की वजह से हो रहे प्रदर्शन को आम जनता के बीच असंतोष के रूप में देखा जा रहा है।

Posted By: Ramesh Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप