काबुल, एपी। अफगानिस्तान में तालिबान शासन के बाद से ही लड़कियों के लिए स्कूल बंद हैं। हालांकि, कई जिलों में कई स्कूल फिर से खोले भी गए हैं, लेकिन पूरी तरह से अफगान में लड़कियों को तालीम नहीं मिल पा रही है। ऐसे में राजधानी काबुल में कुछ महिला अध्यापक अज्ञात स्थानों पर मिल कर लड़कियों को तालीम दे रही हैं।

बता दें कि अफगानिस्तान में कक्षा 7 और 12 के बीच कई लड़कियों के लिए स्कूल बंद हैं। न्यूज एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक, अब महिला शिक्षक राजधानी काबुल में अज्ञात स्थानों पर मिल रही हैं और लड़कियों को घरों के अंदर पढ़ा रही हैं। एपी से बात कर रहे एक छात्र अतेफा ने कहा, 'तालिबान ने सिर्फ लड़कों को स्कूल जाने की इजाजत दी, लेकिन लड़कियों को स्कूल जाने की इजाजत नहीं दी।' 

एक शिक्षक जकिया ने कहा,' क्योंकि लड़कियों को पढ़ना चाहिए। इसलिए हमने घर पर ही लड़कियों को पढ़ा रहे हैं। यहां पर लड़कियां छिपकर पढ़ने  के लिए आती हैं।' बता दें कि इस साल 15 अगस्त को तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था, जिसके बाद से यहां पर कई तरह की पाबंदी लगी हुई है। तालिबान शासन आने से प्रत्येक दिन नए-नए फरमान सुनाए गए हैं। इससे सबसे ज्यादा प्रभावित लड़कियां हुई हैं। 

Edited By: Pooja Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट